HomeFull FormCDS Full Form in Hindi — CDS का फुल फॉर्म क्या है ?

CDS Full Form in Hindi — CDS का फुल फॉर्म क्या है ?

CDS ( सीडीएस ) का फुल फॉर्म chief of Defence staff होता है। जिसको हिंदी में चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ बोलते हैं। इस पद का formation 24 दिसंबर 2019 को किया गया था। यह post तीनों सेनाओं के प्रमुख के तौर पर मानी जाती है। हमारे देश के पहले CDS general Bipin Rawat जी थे।

CDS Full Form in Hindi

लेकिन कुछ वर्ष पहले helicopter crash की वजह से उनकी मौत हो गई थी। जिसके बाद अब chief of Defence staff general Manoj Mukund naravane को बनाया गया है।

आइए आज की post मे CDS के बारे में पूरी जानकारी प्राप्त करेंगे।

 CDS kya hai ( सीडीएस क्या होता है )

CDS एक post होती है। जिसको  सेना के सबसे बड़े अधिकारी को दिया जाता है। हालांकि CDS एक एग्जाम भी होता है जोकि Union Public Service Commission (UPSC) द्वारा हर साल लिया जाता है। वैसे यह दोनों CDS अलग-अलग है। लेकिन आज हम जिस की बात करने वाले हैं वह है chief of Defence staff (CDS).

 First CDS in India  ( भारत के पहले सी डी एस )

General Bipin Rawat भारत के पहले CDS थे। इन्होंने बखूबी इस post पर काफी अच्छा काम किया। उनकी ही बदौलत Indian Army, Indian Air Force, Indian Navy मे बड़ा बदलाव हुआ था। General Bipin Rawat ने 1 जनवरी 2020 को  अपना कार्यभार संभाला था। लेकिन helicopter crash  मे 8 December 2021 दुर्घटना में उनकी मौत हो गई। उन्होंने CDS Post पर 341 दिनों तक काम किया था।

 CDS post eligibility ( सीडीएस पद की योग्यता क्या है)

 सीडीएस पद के लिए सेना में experience व्यक्ति ही eligible होता है। आइए कुछ अनिवार्य योग्यताओं को देखते हैं।

PostEligibility criteria
Chief of Defence staff( CDS )IMA और OTA से किसी मान्यता प्राप्त University या Institute से graduation degree की होनी चाहिए।  या INA से engineering degree होनी जरूरी है।  या वायु सेना मे कार्य करते हुए bachelor of engineering होना आवश्यक है।

How to prepare for CDS ( सीडीएस की तैयारी कैसे करें?)

सीडीएस(CDS) की तैयारी करना भारतीय युवाओं का सपना होता है। यह सेना में officer के रूप में entry पाने का सुनहरा मौका है। जो भी भारतीय युवा Indian Army, Indian Air Force, Indian Navy  मे जाने का ख्वाब रखते हैं।

सीडीएस का exam Union Public Service Commission( UPSC ) लेती है। जिसमें आने वाले question level बहुत कठिन स्तर के होते हैं। इसकी  preparation के लिए उम्मीदवार self studies के साथ-साथ coaching भी लेते हैं। आपको तैयारी करने से पहले CDS syllabus को देखना काफी जरूरी होता है।

 आपको यही सलाह दी जाती है कि preparation strategy के लिए CDS previous year question paper को जरूर देखें। उनको देखकर ही आपको अंदाजा हो जाएगा  कि आपको क्या पढ़ना है और क्या छोड़ना है।

 Physical standards for CDS recruitment ( शारीरिक मानदंड क्या होना चाहिए)

 सीडीएस की तैयारी करने वाले उम्मीदवारों से minimum physical standard की requirement मांगी जाती है। आइए CDS exam के लिए physical standards  को देखते हैं।

  •  उम्मीदवार के द्वारा CDS परीक्षा में physically और mentally fit होना चाहिए।
  •  उम्मीदवारों के शरीर पर कोई भी tattoo नहीं होना चाहिए।
  •  इसके अलावा candidates को कोई भी disease नहीं होनी चाहिए।

 CDS examination pattern ( सीडीएस परीक्षा का पैटर्न क्या है )

 सीडीएस परीक्षा की तैयारी से पहले आपको CDS pattern के बारे में भी अच्छी जानकारी होनी चाहिए। आइए CDS exam pattern के बारे में जानते हैं।

  •  वैसे तो CDS exam offline mode मे लिया जाता है। लेकिन जल्द ही online examination भी करवाया जा सकता है।
  •  सीडीएस एग्जाम 2 पार्ट में होता है। जिसमें पहला written exam  तथा दूसरा interview होता है।
  •  CDS examination की duration 2 घंटे की होती है। जिसमें हिंदी तथा इंग्लिश bilingual exam होता है।

 CDS salary ( पीडीएस अधिकारी का वेतन क्या होता है?)

सीडीएस पद क्योंकि बहुत सारे experience के बाद मिलता है। इसलिए उनका वेतन समय के अनुसार अलग अलग होता है। वर्तमान में 7th pay commission के अनुसार CDS salary दी जाती है। जिसकी जानकारी नीचे दी गई है।

RankSalaryPay scale
Lieutenant177000/- रूपयेलेवल 10
Captain1 लाख 93 हजार/- रूपयेलेवल 10 B
Major2,60000 रूपयेलेवल 11
Lieutenant colonel212000 रूपयेलेवल 12 A
Colonel 215000 रूपयेलेवल 13
Brigadier 217000 रूपयेलेवल 13 A
Major general218000 रूपयेलेवल 14
HAG+224000 रूपयेलेवल 15
VCOAS225000 रूपयेलेवल 16
COAS225000 रूपयेलेवल 17
CDS250000 रूपयेलेवल 18

 Why CDS Post requirement ( सीडीएस पोस्ट की रिक्वायरमेंट क्यों है?)

 सीडीएस पद (CDS post ) की जरूरत बहुत पहले से ही महसूस की जा रही थी। क्योंकि सेना की तीनों body के बीच तालमेल बहुत जरूरी था। 1999 के कारगिल युद्ध से ही सेना द्वारा Government of India को सिपारिस भेजी जा चुकी थी। जिस पर अमल अब जाकर हुआ है। सेना के तीनों bodies के बीच तेजी से फैसला लेने वाली एक post की जरूरत थी। जैसे new weapon, Technology  तथा अन्य जरूरतों के लिए।  

अब chief of Defence staff पद के होने से सेना में जो भी जरूरतें, कमियां या कुछ भी आवश्यकता है तो उसका तुरंत solution हो जाता है। वैसे तो तीनों सेनाओं का प्रधान Indian President होता है। लेकिन वहां से order आने में बहुत देर हो जाती है। इसलिए सेना का अफसर ही सेना की जरूरत को अच्छी तरह समझ सकता है। इसलिए यह post सेना के अंदर से ही बनाने की बात कहीं गई थी।

CDS officer training period ( सीडीएस अधिकारी की प्रशिक्षण अवधि कितनी होती है?)

 Selected candidates का training period अकादमी पर निर्भर करता है। वैसे  भारतीय सैन्य अकादमी या भारतीय नौसेना अकादमी या भारतीय वायु सेना अकादमी के द्वारा 18 months की अवधि के लिए training दिया जाता है।

 इसके अलावा officers training academy के द्वारा भर्ती होने वाले अभ्यर्थियों को 49 weeks की ट्रेनिंग करनी होगी।

ये भी पढ़े:-

CMO Full FormDSLR Full Form
सी.वी का फुल फॉर्मACP Full Form

FAQ

Q : CDS का फुल फार्म क्या होता है ?

Ans : CDS का फुल फार्म “Combined Defence Services” होता है जिसका हिंदी में मतलब “संयुक्त रक्षा सेवाएँ” होता है |

Q : CDS का मतलब क्या होता है?

Ans : संयुक्त रक्षा सेवाएँ की परीक्षा के द्वारा उम्मीदवार थल सेना, वायु सेना और जल सेना में से किसी भी एक में अधिकारी का पद प्राप्त कर नौकरी प्राप्त कर सकता है। जल सेना, वायु सेना व थल सेना भारतीय सुरक्षा बल के अभिन्न अंग हैं।

अंतिम शब्द

उम्मीद है की आपको CDS की फुल फॉर्म के बारे में पता चल गया होगा और अगर आपको CDS के बारे में सम्पूर्ण जानकारी मिल गयी होगी तो इस आर्टिकल को अपने दोस्तों के साथ शेयर करे और कोई सवाल है तो निचे कमेंट सेक्शन में पूछ सकते है ।

Naresh Kumar
Naresh Kumarhttps://howgyan.com
इनका नाम नरेश कुमार है और यह इस ब्लॉग के Founder है । वोह एक Professional Blogger हैं जो SEO, Technology, Internet से जुड़ी विषय में रुचि रखते है । इनको 2 वर्ष से अधिक SEO का अनुभव है और 4 वर्ष से भी अधिक समय से कंटेंट राइटिंग कर रहे है। इनके द्वारा लिखा गया कंटेंट आपको कैसा लगा, कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं। आप इनसे नीचे दिए सोशल मीडिया हैंडल पर जरूर जुड़े।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here