HomeFull Formइमआई का पूरा नाम क्या है – EMI Full Form in Hindi

इमआई का पूरा नाम क्या है – EMI Full Form in Hindi

EMI Full Form: आज महंगाई के दौर में कुछ भी खरीदना हो तो लोगों के पास इतना पैसा नहीं होता है कि तुरंत खरीद ले। जैसे आपको घर, कार, बाइक, घर में शादी या अन्य कोई भी काम करना है तो आपको Bank से loan लेने की जरूरत पड़ती है।

इसके अलावा Bank ही आपको सस्ता लोन provide कराता है। वैसे अगर आप market मे loan लेने की सोचते हैं तो उसका interest rate काफी ज्यादा होता है। इसलिए ज्यादातर लोग Bank से ही लोन लेना पसंद करते हैं।

इमआई का पूरा नाम क्या है

आइए आज की post  में हम जानने वाले हैं कि इमआई का पूरा नाम क्या है – EMI Full Form in Hindi. जिससे आप EMI related सारी जानकारी से परिचित हो जाएंगे।

 EMI kya hai ( ई एम आई क्या होता है?)

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि EMI का पूरा नाम equated monthly installment होता है। इसको हिंदी में समान मासिक किस्त  बोलते हैं।

 यानी जब भी आप Bank या किसी अन्य जगह से loan लेते हैं तो वह आपसे loan के साथ कुछ ब्याज के रूप में पैसा monthly समय अनुसार बाँट देता है।ताकि आप पर भी चुकाने का ज्यादा load ना पड़े।

 How to work EMI process  (ई एम आई  कैसे काम करता है?)

जब भी कोई व्यक्ति loan लेता है तो उसको समय अनुसार ब्याज के साथ loan चुकाना पड़ता है।

मान लो  किसी व्यक्ति ने ₹2 लाख loan 12 महीनों के लिए लिया। जिस पर interest rate 10 फ़ीसदी तय किया गया। तो इस हिसाब से उसकी EMI (ई एम आई ) 17,584 बैठेगी। इसमें मूल राशि 16,666 रूपये है।जबकि intrest rate 916 रूपये है।

EMI के भुगतान का तरीका क्या है?

ई एम आई (emi ) जमा करने के आपके पास 2 तरीके होते हैं। जिसमें पहला तरीका online होता है। आप Bank की official  website पर जाकर payment कर सकते हैं। जिसके लिए आपको upi, net banking या अन्य online transaction करनी होगी।

 ईएमआई(emi )जमा करने का दूसरा तरीका offline होता है। जिसमें Bank  मे जाकर आप अपनी emi का भुगतान कर सकते हैं।

हालांकि अब कुछ Bank automatic सीधे आपके bank account से जितना भी E MI होता है उसको खाते से काट लेते हैं।

EMI calculate कैसे करें?( how to calculate our emi )

 ई एम आई (emi ) कैलकुलेट करने के लिए हम आपको नीचे forumula दे रहे है। आप उसका प्रयोग करके आसानी से emi calculate कर सकते है।

P = A. 1-(1+r)-ñ/ r   A= P. R(1+r)ñ/(1+r)ñ-1
  • P = loan amount
  • A = total amount = loan + intrest amount.
  • R = intrest rate.

EMI के फायदे क्या है?

 ईएमआई के बहुत सारे फायदे हैं। जिनकी जानकारी आपको नीचे दी जा रही है।

  •  ई एम आई (emi ) के जरिए आप आसानी से जरूरत का सामान ले सकते हैं।
  •  अगर आपके पास पर्याप्त पैसे नहीं है फिर भी आपको कुछ बड़ा लेना है तो आपके लिए emi अच्छा ऑप्शन होता है।
  •  ई एम आई के जरिए आप धोखाधड़ी से भी भर सकते हैं। मान लो आपको home loan लेना है तो बैंक आपको लोन तभी देगा जब वह property legal होगी।

EMI से होने वाले नुकसान क्या है?

 हर चीज के फायदे के साथ साथ नुकसान भी होते हैं। आइए  Emi से होने वाले नुकसानो को जानते हैं।

  • Emi से आप महंगा सामान तो ले सकते हैं लेकिन फिर आपको monthly किस्त चुकाने  में problem होगी।
  • Emi अगर बिना policy पढ़े आप ने ले ली तो यह आपके लिए खतरे की घंटी साबित हो सकती है। इसलिए ईएमआई लेने से पहले terms and condition को जरूर पढ़ें।

ये भी पढ़े:-

FAQ

Q : ईएमआई फुल फॉर्म क्या है?

Ans : एक समान मासिक किस्त (ईएमआई) एक निर्धारित मासिक भुगतान है जो एक उधारकर्ता द्वारा एक लेनदार को प्रत्येक महीने एक निर्धारित दिन पर प्रदान किया जाता है।

Q : ईएमआई की शुरुआत किसने की?

Ans : केवी कामथ

अंतिम शब्द

उम्मीद है कि आपको यह ईएमआई के बारे में पता चल गया होगा अगर आपको यह ईएमआई के बारे में पता चल गया तो जरूर से इस आर्टिकल को अपने दोस्तों के साथ शेयर करें और कुछ भी पूछना चाहते हैं तो नीचे कमेंट सेक्शन में पूछ सकते हैं।

Naresh Kumar
Naresh Kumarhttps://howgyan.com
इनका नाम नरेश कुमार है और यह इस ब्लॉग के Founder है । वोह एक Professional Blogger हैं जो SEO, Technology, Internet से जुड़ी विषय में रुचि रखते है । इनको 2 वर्ष से अधिक SEO का अनुभव है और 4 वर्ष से भी अधिक समय से कंटेंट राइटिंग कर रहे है। इनके द्वारा लिखा गया कंटेंट आपको कैसा लगा, कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं। आप इनसे नीचे दिए सोशल मीडिया हैंडल पर जरूर जुड़े।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here