HomeComputerमैकेनिकल कीबोर्ड क्या है - Mechanical Keyboard in Hindi

मैकेनिकल कीबोर्ड क्या है – Mechanical Keyboard in Hindi

मैकेनिकल कीबोर्ड क्या है: अगर आप कीबोर्ड का इस्तेमाल करते हैं, तो हो सकता है आपने इनके बारे में भी सुना हो, लेकिन में आपको बता दूँ की ये आम keyboards के तरह बिलकुल भी नहीं है। क्यूंकि इसमें ऐसे बहुत से features होते हैं, जोकि एक normal keyboards में नहीं होते।

Mechanical Keyboard क्या है

अगर आप अपना बहुत सारा समय computer में काम करते हुए या games खेलते हुए बिताते हैं तब तो आपको इन mechanical keyboard के विषय में जरुर जानना चाहिए। ये कीबोर्ड दूसरो के मुकाबले बहुत सस्ते (cheap) भी होते हैं।

लेकिन अक्सर लोगों को इनके बारे में जानकारी न होने के कारण वो इस नए upgrade को बहुत बार अनदेखा कर देते हैं। आज हम mechanical keyboard क्या होता है, और सभी keyboard का चुनाव कैसे करें के बारे में जानने की कोशिश करेंगे, जिससे की आपको इसे खरीदने में आसानी होगी। तो चलिए शुरू करते हैं। 

मैकेनिकल कीबोर्ड क्या है What is Mechanical Keyboard ?

एक Mechanical Keyboard भी दिखने में एक normal keyboard के तरह होता है, लेकिन इसके काम करने के तरीके में ये दूसरों से different होता है। यह एक ऐसा keyboard होता है जिसमें की keyboard में switches होती हैं।

Mechanical Keyboard एक उच्च Quality वाला Keyboard होता है जिसे स्प्रिंग Activated Keys और स्विच के द्वारा बनाया जाता है ये Key स्विच Keyboard Users के आधार पर अलग-अलग होते है। इसका एक उदाहरण है- इस Keyboard में एक धातु प्लेट, spring switch होती है जब आप स्विच को दबाते हो तब Stem Hunsing के अंदर घुस जाता है और वह स्विच को धातु से छूने की अनुमति देता है जिससे आपके Word type होते है।

बहुत सारे Keyboard में 3 प्लास्टिक मेम्ब्रेन (plastic membrane) सेट बनाए जाते है, जिनमे प्रत्येक Keys के नीचे रबर के गुंबद के आकर के switches होते है, जब आप अपने Keyboard पर किसी Key को press हो, तो rubber switch ऊपर और नीचे कनेक्ट होने के लिए मेमब्रेन्स में एक छेद (hole) के माध्यम से धक्का देता है और फिर ये नीचे उपस्थित PBC बोर्ड के संपर्क में आता है, और Electric Circuit  बनाता है जिस वजह से आपके कंप्यूटर में इनपुट जाता है।

यदि आप keyboards के regular user हैं, तब एक mechanical keyboard के use से आप एक बहुत ही effective typist बन सकते हैं क्यूंकि इसमें आप precise बन सकते हैं और आपको typing के दोरान हमेशा keys की consistent feel प्राप्त होते रहेगी।

Mechanical Keyboard कैसे काम करता है?

Mechanical Keyboard अलग तरह का Keyboard होता है, क्योंकि इसमें कोई मेम्ब्रेन नहीं होता है यहां पर हर एक  Strike को Actual Mechanical Switch के द्वारा Handle किया जाता है जिससे वो Slides Up और  होता है। प्रत्येक Keys की अलग-अलग खुद की Self-contained-system होती है, जिसमे एक Key Metal Actuator और एक Spring भी होती है जो की Depress होती है, और stroke करने पर वापस आ जाती है।

उदाहरण : यदि किसी एक सामान्य कार्य को करने के लिए अन्य प्रकार के Keyboard को जितना समय लगता है तो उसी कार्य को करने के लिए Mechanical Keyboard को उससे कम समय लगेगा।

मैकेनिकल कीबोर्ड Switch के प्रकार

अब हम आपको मैकेनिकल कीबोर्ड के बारे में बताते हैं। Characteristics के आधार पर basically तिन प्रकार के switches होते हैं:

  • Linear switches
  • Tactile switches
  • Clicky switches.

Linear Switches

ये सबसे simple वाले होते  हैं, इन्हें आप press करने से- दबने तक ये समान feel कराती हैं।   इसमें कोई भी noise नहीं होती है जब आप उनके actuation point (ये वो point है जहाँ पर keypress registered होती है – usually ये कहीं press के बिच में ही होती है) पर hit करते हैं।  इसलिए ज्यादातर समय बड़े हलके से touch से ही key को press से कर सकते हैं। 

Tactile Switches

ये noise  प्रदान करती है, जब आप उसके actuation point को hit करते हैं। जब आप key को press down करते हैं, इसमें आप एक small bump notice करते हैं, इससे आपको पता चलता है की आपके key press register हो गयी है। 

Clicky Switches

जब आप actuation point को press करते हैं, ये Switches आपको additional click sound प्रदान करते हैं। Tactile और Clicky की जो main advantage है वो ये की यहाँ पर आपको switch को पूरा दबाने की जरुरत ही नहीं होती है। आप key को release कर सकते हैं, जब भी आप कोई feedback receive करते हैं। 

अब हम आपको Mechanical Keyboard के अन्य प्रकार के बारे में बताने जा रहे है –

  • Cherry
  • Cherry Mx Red, Cherry Mx Blue, Cherry Mx Black, Cherry Mx Brown
  • Cherry Mx Speed
  • Razer, Razer Green, Razer Orange

हम अपनी जरुरत के हिसाब से इनका चयन कर सकते हैं।

उपयुक्त मैकेनिकल कीबोर्ड का चुनाव कैसे करे?

अब तक तो आपने अपने लिए सभी board size का चुनाव कर भी लिया है, लेकिन अभी आपको Switches का चुनाव करना बाकि है, ये user के ऊपर निर्भर करता है की उसे कोन से type का Switch चाहिए। Market में ऐसे बहुत से brands उपलब्ध है जो users के अनुसार Switch बनाते हैं। 

बड़े ecommerce companies जैसे की Amazon में आपको बहुत सारे manufactures के items देखने को मिल जायेंगे। इसमें बहुत सारे varients होते हैं- जैसे की blue, green, brown, red, clear और Black लेकिन इन सभी switches को परखने से पहले ये जानना जरुरी है, की इनके कितने varieties होती हैं। 

वैसे देखा जाये तो इसके मुख्य रूप से 3 अलग अलग varieties होते हैं:

  • Clicky (blue and green)
  • Tactile (brown and clear)
  • Linear (black and red)

इसके साथ ही इनकी सभी categories को दो हिस्सों में split किया जाता है – एक है heavier और दूसरा है- lighter version  

ये भी पढ़े :-

FAQ

Q : कीबोर्ड का फुल फॉर्म क्या है?

Ans : Keyboard का full form Keys Electronic Yet Board Operating A to Z Response Directly होता है।

Q : कंप्यूटर की कीबोर्ड में कितने बटन होते हैं?

Ans : एक सामान्य Standard keyboard में हमें 104 keys दी जाती है। ज्यादातर लोग अपने कार्यों में Standerd keyboard का ही उपयोग किया करते है।

Conclusion

मकैनिकल कीबोर्ड उच्च गुणवत्ता वाले keyboard होते हैं। जिन्हें आमतौर पर spring activated, key switches के द्वारा बनाया जाता है। ये key स्विच कीबोर्ड उपयोग कर्ता के आधार पर अलग होते हैं and उपयोग करने मे ज्यादा सुविधा जनक होते हैं।

आशा करते हैं की आपको हमारा आज का लेख पसंद आया होगा, आप इनको पढ़ कर मैकेनिकल कीबोर्ड का चुनाव कर सकते हैं।

Naresh Kumar
Naresh Kumarhttps://howgyan.com
इनका नाम नरेश कुमार है और यह इस ब्लॉग के Founder है । वोह एक Professional Blogger हैं जो SEO, Technology, Internet से जुड़ी विषय में रुचि रखते है । इनको 2 वर्ष से अधिक SEO का अनुभव है और 4 वर्ष से भी अधिक समय से कंटेंट राइटिंग कर रहे है। इनके द्वारा लिखा गया कंटेंट आपको कैसा लगा, कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं। आप इनसे नीचे दिए सोशल मीडिया हैंडल पर जरूर जुड़े।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here