HomeComputerOpen Source Software क्या है और इसके फायदे

Open Source Software क्या है और इसके फायदे

Open Source Software क्या है: कम्प्युटर (computer) एक तरह का इलेक्ट्रॉनिक उपकरण (electronic machine) हैं, जो अपना काम विभिन्न प्रोग्राम्स की सहायता से पूरा करती हैं। कम्प्युटर अकेला हर कार्य को करने की क्षमता नहीं रखता हैं, मगर हर काम के लिए आवश्यक वातावरण जरूर उपलब्ध करवाता हैं।

इसी वातावरण के आधार पर काम को पूरा करने के लिए कुछ प्रोग्राम्स विकसित किये जाते हैं, जिन्हे कंप्यूटर की भाषा में सॉफ्टवेयर (softwares) कहा जाता हैं। ये सॉफ्टवेयर कई प्रकार के होते हैं। जिनमे से एक का नाम है, ओपन सोर्स सॉफ्टवेयर

Open Source Software क्या है

जब बात Softwares को Download करने की आती है, तब हम में से ज्यादातर लोग Free Softwares की सबसे ज्यादा तलाश करते हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं की इन Free Software में ज्यादातर Open Source Software ही होते हैं, जिससे हमें ये आसानी से मुफ्त मै डाउनलोड करने के लिए मिल जाते हैं।

अगर आप भी ओपन सोर्स सॉफ्टवेयर के बारे में अधिक जानना चाहते हैं, तो आप सही लेख को पढ़ रहे हैं, इसको अच्छे से जानने के लिए हमारे इस आज के लेख को आखिर तक पढ़े।

ओपन सोर्स सॉफ्टवेयर क्या हैं – What is Open-Source Software?

अब हम आपको ओपन सॉफ्टवेयर के बारे में विस्तार से बताते हैं। ओपन सोर्स सॉफ्टवेयर एक ऐसा सॉफ्टवेयर होता है जो source code (वह कोड जिससे प्रोग्राम बनता हैं) के साथ आता हैं। ओपन सोर्स सॉफ्टवेयर कॉपीराईट (copyrights) मुक्त रहता हैं, और युजर इसके सोर्स कोड को प्राप्त करके उसे अपनी जरूरत के अनुसार सुधार सकता हैं, उसमे नए features जोड सकता हैं, और उसे सशुल्क बेच भी सकता हैं। इन सभी कामों पर किसी की कोई पाबंदी नहीं रहती हैं।

इस प्रकार के सॉफ्टवेयरों के बदले में users से किसी भी प्रकार का शुल्क नहीं लिया जाता हैं, मगर, इन प्रोजेक्ट पर निर्मित नये उत्पाद इस श्रेणी से बाहर होते हैं। जिन्हे developers शुल्क सहित बेच सकता हैं।

ओपन सोर्स सॉफ्टवेयर लाइसेंस Open Source Software Licensing

सभी ओपन सोर्स सॉफ्टवेयर users तथा developers के लिए free में उपलब्ध रहते हैं, जिन्हे एक लाईसेंस विशेष के साथ वितरित किया जाता हैं। ये लाईसेंस main रूप से एक ही बात पर user or developer को पाबंद करते हैं कि, “source code में किसी भी प्रकार का change जनता के लिए उपलब्ध करवाना पडेगा।”

ओपन सोर्स सॉफ्टवेयर के फायदें Advantages of Open Source Software

इन सॉफ्टवेयर का सबसे बडा फायदा है और वो है  इसकी मुफ्त उपलब्धता, और यही उपलब्धता ही इन्हे बाकी कमर्शियल सॉफ्टवेयर से अलग करती हैं । इसके अलावा भी बहुत सारे फायदें होते हैं, जिनेक बारे में हम आपको नीचे बता रहे हैं-

निशुल्क – Free of Cost

ओपन सोर्स प्रोजेक्ट के तहत निर्मित अधिकतर सॉफ्टवेयर निशुल्क (free of cost) उपलब्ध करवाये जाते हैं। मगर इन इनके source code से निर्मित नये उत्पाद इस लाईसेंस के दायरे में नहीं आते हैं, और युजर से fees भी लिया जा सकता हैं। उदाहरण के तौर पर – Android एक ओपन सोर्स प्रोजेक्ज है, मगर इसके द्वारा निर्मित android apps शुल्क के साथ खूब बेचे जाते हैं।

आसान उपलब्धता – Ease of Availability

 यह सॉफ्टवेयर आसानी से उपलब्ध हो जाते हैं, तथा युजर या डवलपर को ज्यादा औपचारिकताएं (formalities) भी पूरी नहीं करनी पडती हैं। बस हम गूगल पर इनका नाम टाइप कर के इनको डाउनलोड कर सकते हैं।

ज्ञान प्राप्त करने का अवसर – Provide Learning Opportunities

क्यूंकि ये प्रोजेक्ट ओपन होते हैं, इसलिए कोई भी नौसीखियाँ (beginners) अपना हाथ प्रोग्रामिंग में आजमा सकता हैं, और अपना कौशल दिखा सकता हैं। प्रोग्रामिंग के अलावा अन्य क्षेत्रों में भी ऐसे free projects उपलब्ध रहते हैं। इसलिए व्यावहारिक ज्ञान प्राप्त करने का सुअवसर इन projects के माध्यम से प्राप्त होता हैं।

उच्च गुणवत्ता – High Quality

इन projects की क्वालिटि कमर्शियल सॉफ्टवेयर से भी ज्यादा होती हैं, क्योंकि इन्हे दुनिया के अलग-अलग corners से भिन्न-भिन्न जरूरत के लोगों द्वारा सामुहिक प्रयास से develop किया जाता हैं। इसलिए हर प्रकार के users की जरूरत का ख्याल इस सॉफ्टवेयर में रखा जाता हैं। और एक ही प्रोजेक्ट पर हजारों लोग काम कर रहे होते हैं तो छोटी-मोटी कमियां, जिनको Bugs कहा जाता है, समय रहते ही ठीक कर दी जाती हैं। इसलिए इन प्रोजेक्ट की quality बहुत हाई level की होती हैं। शायद यहीं कारण है कि कमर्शियल, एवं paid सॉफ्टवेयर की तुलना में ओपन सोर्स सॉफ्टवेयरों का उपयोग अधिक होता हैं।

ज्यादा सुरक्षित – More Secure

ओपन सोर्स प्रोजेक्ट उच्च गुणवत्ता के बावजूद अधिक secure भी होते हैं, क्योंकि सैंकडों हजारों लोग आने वाली problems तथा कमियों को तुरंत पकडकर ठीक कर देते हैं।

अधिक नियत्रंण – More Control

ओपन सोर्स सॉफ्टवेयर के साथ source code भी उपलब्ध करवायें जाते हैं, इसलिए युजर अपनी जरूरत के अनुसार इन सॉफ्टवेयरों में अपने अनुसार आवश्यक changes भी कर सकते हैं, और इन पर किसी व्यक्ति, संस्था का नियत्रंण (control) नहीं रहता है, इसलिए युजर के लिए कमर्शियल सॉफ्टवेयर की तुलना में ज्यादा नियत्रंण मिलता हैं।  

कुछ लोकप्रिय ओपन सोर्स सॉफ्टवेयर (OSS) – Some Famous Open Source Software Name

अब हम आपको कुछ फ्री ओपन सोर्स सॉफ्टवेयर के नाम बताते हैं।

  1. Linux – ऑपरेटिंग सिस्टम
  2. Mozilla Firefox – वेब ब्राउजर
  3. Mozilla Thunderbolt – ईमेल क्लाइंट
  4. VLC Media Player – मीडिया प्लेयर
  5. Libre Office or Open Office – डॉक्युमेंट एडिटर
  6. GIMP – ग्राफिक एडिटर
  7. Filezilla – FTP क्लाइंट
  8. Apache Web Server – सर्वर
  9. PHP – प्रोग्रामिंग भाषा
  10. Python – प्रोग्रामिंग भाषा

ये भी देखे-

FAQ

Q : ओपन सोर्स सॉफ्टवेयर कौन कौन सा है?

Ans : मुक्त स्रोत अथवा ओपन सोर्स ऐसे सॉफ्टवेयर को कहा जाता है जिसका स्रोत कूट (सोर्स कोड) सभी के लिये खुला हो।

Q : ओपन सोर्स सॉफ्टवेयर के प्रमुख उद्देश्य क्या है?

Ans : ओपन सोर्स सॉफ्टवेयर का एक उद्देश्य है अपने उपयोगकर्ता को सही सॉफ्टवेयर काम में लाने की आजादी देना। यदि आपकी कोई कंपनी है तो आप भिभिन्न ऑनलाइन समुदाय द्वारा निर्मित किये गए सॉफ्टवेयर प्रयोग में ला सकते हैं। एक बार आपको वह सॉफ्टवेयर मिल जाता है जो आपकी कम्पनी के लिए सबसे उपयुक्त है आप उसे पूरी तरह काम में ला सकते हैं।

Conclusion

ओपन सोर्स सॉफ्टवेयर (open source software) एक प्रकार के सॉफ्टवेयर होते हैं जो सार्वजनिक तौर पर सभी के लिए available होते हैं, और कोई भी व्यक्ति इन सॉफ्टवेयर को डाउनलोड कर सकता है और इसमें कुछ जोड़ सकता है और कुछ हटा भी सकता है, मतलब है की अपने अनुसार मोडीफाई कर सकता है।

वैसे ये Open source software ज्यादातर free software ही होते हैं जिन्हें की आप अपने काम में use कर सकते हैं। Open source developers ऐसे सॉफ्टवेयर को जानबुझकर ही बनाते हैं, जहाँ पर ये इसकी source code को publicly available करवा देते हैं, ताकि दुसरे लोगों का इससे भला हो सके, और दुसरे लोग भी इनमे अपना हाथ आजमा सके।

आशा करते है, आपको आज का हमारा ये लेख पसंद आया होगा, इसकी सहता से आप ओपन सोर्स सॉफ्टवेयर को डाउनलोड कर के अपनी कोडिंग आजमा सकते है।

Naresh Kumar
Naresh Kumarhttps://howgyan.com
इनका नाम नरेश कुमार है और यह इस ब्लॉग के Founder है । वोह एक Professional Blogger हैं जो SEO, Technology, Internet से जुड़ी विषय में रुचि रखते है । इनको 2 वर्ष से अधिक SEO का अनुभव है और 4 वर्ष से भी अधिक समय से कंटेंट राइटिंग कर रहे है। इनके द्वारा लिखा गया कंटेंट आपको कैसा लगा, कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं। आप इनसे नीचे दिए सोशल मीडिया हैंडल पर जरूर जुड़े।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here