WiFi क्या है और क्या है इस Technology का इतिहास

WiFi क्या है: Internet का आविष्कार कई सालों पहले ही हुआ था। लेकिन उस समय तक हर कोई इसका इस्तेमाल नहीं कर सकता था। उस समय इस्तेमाल के लिए बहुत सारी cables की भी जरूरत पड़ती थी।

WiFi क्या है

 केबल के जरिए ही internet का प्रयोग किया जा सकता था। जैसे-जैसे Technology को बेहतर बनाने की शुरुआत हुई, वैसे वैसे जटिल चीजों को सरल बनाया गया। आइए आज की पोस्ट में हम आपको WiFi क्या है और क्या है इस Technology का इतिहास इत्यादि के बारे में जानकारी देंगे।

 Wi-Fi क्या है ?

 Wi-Fi का पूरा नाम wireless fidelity है। Wi-Fi एक लोकप्रिय Wireless networking Technology  है, जो high speed internet और network connection देने के लिए radio signal  देता है।

  • Wi-Fi का आविष्कार John O’Sullivan और John Deane ने 1991 मे किया था। यह शरू मे एक प्रकार से Wireless networking सुविधा है। जिसको wireless Local area network (WLAN ) बोलते हैं। जिसके जरिए ही आज हम internet and network connection का इस्तेमाल करते हैं।
  •  Wi-Fi की मदद से ही आप mobile, laptop,computer, printer आदि को इंटरनेट तथा नेटवर्क से जोड़ सकते हैं। लेकिन यह टेक्नोलॉजी एक सीमित range मे काम करती है। यानी सीमित स्थान में ही आप internet का प्रयोग कर सकते हैं।
  •  इंटरनेट के साथ-साथ आप data transfer भी कर सकते हैं जैसे कि shareit और xzender द्वारा। अभी तक जितने भी devices है जैसे कि smartphone, laptop, printer इत्यादि में Wi-Fi chip होती है। जो wireless router से connect होकर internet का इस्तेमाल कर पाते हैं।
  •  लेकिन wireless router को भी internet से जुड़े रहने के लिए DSL & cable modem का इस्तेमाल करना पड़ता है। जो internet service provider (ISP) से जुड़ा रहता है। वरना आप internet access  नहीं कर पाओगे।
  •  आजकल Wi-Fi hotspot आते हैं जैसे कि jio 4G ने लॉन्च किया है। यानी एक device के साथ कई system internet से जुड़ सकते हैं।

 Wi-Fi काम कैसे करता है?

  •  Wi-Fi Technology मे Wi-Fi router या hotspot होता है जो कि wireless signal के माध्यम से काम करता है। इसमें wireless router किसी इंटरनेट से जुड़ कर सूचना को radio तरंगों में बदलता है।
  •  Wi-Fi device  वातावरण में मौजूद Wi-Fi संकेतो से अपने आसपास Wi-Fi zone का निर्माण करता है। यही छोटा नेटवर्क  WLAN कहलाता है। इस छोटे से area में जितनी भी devices जैसे कि computer, laptop, smartphone होती है उनमे inbuilt wireless adaptor होता है। जिससे आसानी से Wi-Fi signal प्राप्त हो जाते हैं।
  • लेकिन desktop computer मे inbuilt wireless adaptor नहीं होता है। लेकिन उसमें USB Board होता है। जिसको cables  के द्वारा Wi-Fi से connect कर सकते हैं।
  •  अगर आप रेल, कॉफी शॉप, एयरपोर्ट पर जाते हैं तो आप Wi-Fi zone मे होते हैं। कई ऐसे शहर भी हैं जहां पर सरकार ने Wi-Fi zone बना रखे हैं। जहां पर लोग free internet का इस्तेमाल कर सकते हैं।
  •  आपकी जानकारी के लिए बता दें कि wireless communication two way Radio Communication होता है। यानी  जब आप अपना laptop Wi-Fi से connect करते हैं तभी data transmit होता है। इससे Wi-Fi adaptor data को radio waves मे बदल देता है। और इसके antenna के प्रयोग से ही signal transmit करते हैं।
  •  जब wireless router इस signal को प्राप्त करता है तो इसको डिकोड कर लेता है। Routers information को physical wired Ethernet connection के जरिए internet मे भेजता है। इस तरह से Wi-Fi network के जरिए एक device से दूसरे device मे data transfer किया जा सकता है।
  •  यही प्रक्रिया ठीक इसके विपरीत काम भी करती है। जिससे router internet से एक information प्राप्त करके फिर से radio signal मे बदल देता है। आप wireless adaptor के जरिए अपने डिवाइस में इंटरनेट प्राप्त कर सकते हैं।
  •  Wi-Fi routers के पार निकलने वाली तरंगें दीवार के आर पार हो जाती हैं जिससे एक बिल्डिंग के कई कमरों में Wi-Fi का प्रयोग किया जा सकता है। एक घर के लिए एक wireless router  काफी होता है। इसमें  internet की speed दूरी बढ़ने के साथ कम हो जाती है।
  •  आजकल के smartphones मे Wi-Fi के साथ personal hotspot का ऑप्शन भी होता है। आप अपने फोन को wireless router की तरह प्रयोग कर सकते हैं। मान लो अगर आपका डाटा खत्म हो जाता है  तो आप अपने दोस्त का personal hotspot का उपयोग कर सकते हैं। इस प्रकार आप Wi-Fi का लाभ उठा सकते हैं।

 Benefits of Wi-Fi के बारे में बताइए?

 आज Technology  मे रोज बदलाव आता जा रहा है। Computer scientist  ने wire cable की जगह wireless network बनाया है। जिसे आप Wi-Fi के रूप में जानते हैं। आप और हम इसका प्रयोग आजकल हर जगह कर सकते हैं।

  •  आज से 10 साल पहले internet का इस्तेमाल करने के लिए आपको internet cafe जाना पड़ता था। यानी इंटरनेट सभी के लिए आसान पहुंच नहीं थी। लेकिन आज internet सबके हाथों तक पहुंच गया है। आपको कोई भी cables की आवश्यकता नहीं है। इसका श्रेय आपको Wi-Fi Technology को देना होगा।
  •  Internet चाहे आपके mobile, laptop, computer  के लिए इस्तेमाल हो आप Wi-Fi का प्रयोग आसानी से कर सकते हैं। यह टेक्नोलॉजी user-friendly  है। लेकिन Wi-Fi router की रेंज के अनुसार ही आप इंटरनेट का प्रयोग कर सकते हैं। क्योंकि दूरी बढ़ने के साथ इसकी  internet speed और connection कम होता जाता है।
  •  Wi-Fi का इस्तेमाल आसान होता है। आप Wi-Fi password डालकर Wi-Fi से कनेक्ट कर सकते हैं। पहले जहां Wi-Fi मिलना काफी मुश्किल था। आज वही हर जगह Wi-Fi मौजूद है। आप कहीं पर भी जाकर internet access  कर सकते हैं। जैसे train, bus, supermarket, coffee shop इत्यादि।
  •  इसके अलावा आप एक Wi-Fi के साथ बहुत सारे दूसरे mobile phones कनेक्ट कर सकते हैं। जिसमें एक routers के साथ 5 से 6 मोबाइल कनेक्ट कर सकते हैं। साथ ही यह कनेक्शन बहुत जल्द हो जाता है।
  •  Cellular network की तुलना में Wi-Fi network की speed काफी ज्यादा होती है। जिसमें data transfer भी बहुत तेजी के साथ होता है। आप audio, video, text message इत्यादि को तेजी के साथ भेज सकते हैं।
  •  इसके साथ ही आप दिन में 50 GB तक का इंटरनेट यूज कर सकते हैं। जो कि अपने आप में बहुत ज्यादा होता है। Wi-Fi का उपयोग कहीं भी किसी भी देश में किया जा सकता है। इसी वजह से आज Wi-Fi support सभी devices मे देखने को मिलता है।

ये भी पढ़े:-

FAQ

Q : वाईफाई का फुल फॉर्म क्या है ?

Ans : वाईफाई का फुल फॉर्म या मतलब Wireless Fidelity (वायरलेस फिडेलिटी) होता है।

Q : WiFi की रेंज कितनी होती है ?

Ans : 5 GHz की फ्रीक्वेंसी पर कार्य करता है तथा इसकी रेंज 115 फीट है।

आखिरी शब्द

उम्मीद है कि आप को पता चल गया होगा कि वाईफाई क्या होता है और इसमें कौन-कौन सी विशेषताएं होती हैं और आपको यह आर्टिकल पसंद आया तो जरूर से अपने दोस्तों से शेयर करें और कुछ भी पूछना चाहते हैं तब नीचे कमेंट सेक्शन में पूछ सकते हैं ।

Naresh Kumar
Naresh Kumarhttps://howgyan.com
इनका नाम नरेश कुमार है और यह इस ब्लॉग के Founder है । वोह एक Professional Blogger हैं जो SEO, Technology, Internet से जुड़ी विषय में रुचि रखते है । इनको 2 वर्ष से अधिक SEO का अनुभव है और 4 वर्ष से भी अधिक समय से कंटेंट राइटिंग कर रहे है। इनके द्वारा लिखा गया कंटेंट आपको कैसा लगा, कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं। आप इनसे नीचे दिए सोशल मीडिया हैंडल पर जरूर जुड़े।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here