HomeFull FormHTML Full Form in Hindi – HTML की फुल फॉर्म क्या है ?

HTML Full Form in Hindi – HTML की फुल फॉर्म क्या है ?

वेब पेज हेतु HTML का प्रयोग किया जाता है। जब कहीं सारे वेबपेज मिलते हैं, तब जाकर एक वेबसाइट बनती है। HTML एक भाषा है। जिसका प्रयोग वेबसाइट बनाने हेतु किया जाता है।

HTML Full Form in Hindi

 आपने भी अक्सर सुना होगा HTML के बारे में, लेकिन आप समझ नहीं पाते होंगे कि यह एचटीएमएल होता क्या है? आज की पोस्ट मे हम HTML Full Form in Hindi – HTML की फुल फॉर्म क्या है? के बारे में बातचीत करने वाले हैं।

HTML Full Form in Hindi – HTML की फुल फॉर्म क्या है

 HTML का पूरा नाम hypertext markup language होता है। इसको हिंदी में हाइपर टेक्स्ट मार्कअप लैंग्वेज कहते हैं। यह internet के लिए बहुत महत्वपूर्ण लैंग्वेज होती है। इसके बिना हम website coding नहीं कर सकते।

 अन्य भाषाएं जैसे कि C plus plus, Java इत्यादि hard language होती है। जिनको सीखने में काफी वक्त लग जाता है। जबकि HTML language काफी आसान भाषा होती है। ज्यादातर programmer  एचटीएमएल लैंग्वेज का ही प्रयोग करते हैं।

 HTML की खोज किसने की थी?

HTML की खोज physics Tim Berners Lee  द्वारा 1980 में की गई थी। Tim Berners Lee जेनेवा के थे। HTML language independent language होती है। इसका उपयोग हम individual platform जैसे कि Windows, Linux, macintosh इत्यादि में कर सकते हैं।

 HTML language विभिन्न प्रकार के tag तथा  attributes का प्रयोग करती है। HTML files का उपयोग आप .Html या .Htm file extension मे करते हैं।

 HTML का प्रयोग आजकल कम हो गया है। क्योंकि लोग WordPress पर वेबसाइट बनाते हैं। WordPress एक सॉफ्टवेयर है, जो आपके लिए website  बनाता है। हालांकि WordPress HTML का प्रयोग करता है। लेकिन पहले जिस तरह से केवल coding के जरिए वेबसाइट बनती थी। वैसे आज possible नहीं है।  

 Hypertext

हाइपरटेक्स्ट का मतलब simple text को अलग बनाना होता है। यानी इसके जरिए text का उपयोग ऐसा किया जाता है, कि वह hyperlink जैसा दिखे।

 Markup

 Markup का मतलब text को style और layout देना होता है। जब भी हम text को Italic मे दिखाते हैं और उसके आजू बाजू में <> लगाते हैं, तो उसको markup बोला जाता है।

 Language

 लैंग्वेज यानी की कोडिंग। जब भी आप कोई भी वेबसाइट बनाते हैं, तो उसमें कोडिंग की जाती है। कोडिंग के जरिए website design करने का प्रयास किया जाता है। Website के विभिन्न फंक्शन बनाए जाते हैं।

 HTML version कौन-कौन से हैं?

 HTML के विभिन्न version है। आइए सभी वर्जन को देखते हैं।

  •  HTML 1.0- एचटीएमएल का यह वर्जन पहली बार लाया गया था। जिसको bare bones वर्जन भी बोलते हैं। जो कि बहुत unique वर्जन  था।
  •  HTML 2.0- यह वर्जन एचटीएमएल के पुराने वर्जन को update करने के लिए लाया गया था। जिसको  1995 मे लाया गया था। इसको लाने के बाद html language काफी बेहतर हो गई।
  •  HTML 3.2 – www के standard का विकास इसके अंतर्गत किया गया था। HTML का यह वर्जन 1997 में लाया गया था
  •  HTML 4.0 – HTML का यह version 1997 मे आया। जिसको Browser specific element के रूप में जाना जाता है।
  •  HTML 4.01 – HTML का यह लेटेस्ट वर्जन है। जिसको दिसंबर 1999 में लाया गया था।

HTML दस्तावेज़ का उदाहरण

निम्नलिखित HTML दस्तावेज़ ” Hello, World!” का एक उदाहरण है:-

<!DOCTYPE html>
<html>
  <head>
    <title>This is a title</title>
  </head>
  <body>
    <p>Hello world!</p>
  </body>
</html>

ये भी पढ़े:-

DCP की फुल फॉर्मवीआईपी का फुल फॉर्म
NGO Full FormLed का फुल फॉर्म

FAQ

Q : एचटीएमएल का फुल फॉर्म क्या है?

Ans : HTML का full form Hyper Text Markup Language (हाइपर टेक्स्ट मार्कअप लैंग्वेज) है।

Q :  HTML की खोज किसने की थी?

Ans : HTML की खोज physics Tim Berners Lee  द्वारा 1980 में की गई थी। Tim Berners Lee जेनेवा के थे।

अंतिम शब्द

उम्मीद करता हु की आपको पता चल गया होगा की एचटीएमएल का फुल फॉर्म क्या है और इसका इस्तेमाल कैसे किया जाता है और अगर आपको यह सब जानकारी के बारे में पता चल गया तो अपने दोस्तों के साथ शेयर करें और कोई सवाल है तो निचे कमेंट करें।

Naresh Kumar
Naresh Kumarhttps://howgyan.com
इनका नाम नरेश कुमार है और यह इस ब्लॉग के Founder है । वोह एक Professional Blogger हैं जो SEO, Technology, Internet से जुड़ी विषय में रुचि रखते है । इनको 2 वर्ष से अधिक SEO का अनुभव है और 4 वर्ष से भी अधिक समय से कंटेंट राइटिंग कर रहे है। इनके द्वारा लिखा गया कंटेंट आपको कैसा लगा, कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं। आप इनसे नीचे दिए सोशल मीडिया हैंडल पर जरूर जुड़े।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here