HomeJankariसाइकिल का आविष्कार किसने किया था और कब हुआ

साइकिल का आविष्कार किसने किया था और कब हुआ

साइकिल का आविष्कार किसने किया था: दोस्तों आज के इस आर्टिकल में हम जानने वाले है की साइकिल का आविष्कार कब हुआ था और किसने किया था आपको पता ही होगा की दुनिया भर में साइकिल का इस्तेमाल होता है और आपके पास भी साइकिल होगा ।

साइकिल को चलाने के लिए किसी भी तरह का ईंधन नहीं चाहिये होता है और यह बहुत सस्ता भी होता है और कोई भी इन्सान साइकिल को खरीद सकता है और यह प्रदूषण भी नहीं फेलता है।

साइकिल का आविष्कार किसने किया था

सरकार भी चाहती है की सभी लोग साइकिल का इस्तेमाल करें क्युकी साइकिल से किस भी तरह का प्रदूषण नहीं होता है लेकिन इस समय इलेक्ट्रॉनिक व्हीकल भी आ गए है और यह व्हीकल बिजली से चलते है लेकिन यह नार्मल साइकिल से बहुत ज्यादा मेहेंगा होता है और हर कोई इसे नहीं ले सकता है ।

साइकिल का आविष्कार किसने किया था ?

साइकिल का आविष्कार जर्मनी के वन अधिकारी Karl Von Drais ने किया था । और आपको यह जानकर हैरानी होगी की दुनिया की इस पहली Bicycle का Invention आज से लगभग 200 साल पहले यानी 1817 में हुआ था । Karl Von Drais यूरोप के बाइडेर्मियर काल के एक प्रसिद्ध आविष्कारक थे Cycle के अलावा भी बहुत सी चीजों का इजात किया था ।

Karl Von Drais
Karl Von Drais

Karl Von Drais ने साल 1812 में कागज पर पियानो संगीत रिकॉर्ड करने वाला एक उपकरण, 1817 में सामान ले जाने के लिए साइकिल, साल 1821 में कीबोर्ड वाला शुरूआती टाइपराइटर, साल 1827 में 16 अक्षरों वाली स्टेनोग्राफ मशीन और दुनिया की पहली मीट ग्राइंडर यानी कीमा बनाने की मशीन बनाने का श्रेय भी कार्ल वॉन ड्रेस को जाता है ।

साइकिल का आविष्कार कैसे और कब हुआ ?

आपको बता दे सन 1815 में इंडोनेशिया स्थित टेम्बोरा ज्वालामूखी में बहुत बड़ा विस्फोट हुआ जिससे उत्तरी गोलार्ध के देशो में काफी प्रभाव पड़ा ।

सारी फसले नष्ट हो गयी और दुनियाभर के देशो में तापमान में गिरावट आ गयी । उस समय अधिकतर लोग अपना जीवन यापन खेती के बलबूते पर करते थे लेकिन इस विस्फोट से उनकी सारी फसले ख़तम हो चुकी थी जिससे बहुत से पालतू जानवरो की भी भूख से मृत्यु होने लगी ।

साइकिल का क्रमिक विकास
साइकिल का क्रमिक विकास

पहले जानवरो का इस्तेमाल सामान ढोने में किया जाता था तो अब इस काम के लिए जानवरो की कमी हो गयी और ऐसे भी इसी समस्या से निपटने के लिए 1817 में साइकिल का अविष्कार हुआ ।

शुरुआत में जो साइकिल बनाई गयी थी वह केवल लकड़ियों से बनाई गयी थी जिसमे साइकिल के मार्गदर्शन हेतु एक हैंडल होता था उसके अलावा इसमें कोई भी पेडल या गियर नहीं होता था और इसे धका देकर चलाया जाता था ।

Karl Von Drais ने जो साइकिल का आविष्कार किया था उसमे कोई भी पेडल नहीं बनाया गया था और यह साइकिल लकड़ी का बना हुआ था और इस साइकिल का वजन 23 किलोग्राम था और पेडल न होने की वजह से इस साइकिल को धक्का लगाकर चलाया जाता था ।

इस साइकिल को 12 जून 1817 को जर्मनी के दो शहर मैनहेम और रिनाउ के बीच चलाकर लोगों के सामने प्रदर्शित किया था । इस दौरान 7 किलोमीटर की दूरी तय करने के लिए लगभग एक घंटे से अधिक का समय लगा था ।

वर्तमान की साइकिल का आविष्कार कब हुआ ?

सबसे पहेले साइकिल का आविष्कार जर्मनी के वन अधिकारी Karl Von Drais ने किया था उन्होंने बिना पेडल की साइकिल बनाई थी । इसके बाद दुनिया की पहली पेडल वाली साइकिल साल 1863 में फ्रांस के एक मैकेनिक Pierre Lallement द्वारा बनायी गयी थी इन्होने अगले पहिये में पैडल लगाया था ।

सायकिल के विभिन्न पुर्जे
सायकिल के विभिन्न पुर्जे

जैसे जैसे टाइम जाता गया साइकिल और ज्यादा एडवांस हो गये और आज के टाइम में पेडल साइकिल के बिच में लगाया जाता है ।

भारत में साइकिल का आविष्कार कब हुआ ?

भारत में साइकिल का आविष्कार कब हुआ 1942 में एक हिन्द साइकिल नाम की कंपनी द्वारा शुरू किया गया था । इससे पहेले साइकिल को भारत में नही बनाया जाता था इसे किसी और देश से इम्पोर्ट किया जाता था लेकिन 1942 में मुंबई स्थित हिन्द साइकिल कंपनी के द्वारा साइकिल का निर्माण शुरू करने के बाद लोग स्वदेशी साइकिल का ज्यादा इस्तेमाल करने लगे । 

ये भी पढ़े :-

अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न

साइकिल का आविष्कार किसने किया था ?

साइकिल के आविष्कार का श्रेय जर्मनी के वन अधिकारी कार्ल वॉन ड्रैस (Karl von Drais) को दिया जाता है ।

साइकिल का हिंदी नाम क्या है?

साइकिल को  हिंदी में ‘द्विचक्र वाहिनी’ कहते हैं ।

साइकिल का आविष्कार कब हुआ

साइकिल का 1817 में हुआ था ।

अंतिम शब्द

अब आपको पता चल गया होगा की साइकिल का आविष्कार किसने किया था और कब किया था और साइकिल का आविष्कार जर्मनी के वन अधिकारी Karl Von Drais ने किया था। दुनिया की इस पहली साइकिल का Invention आज से लगभग 200 साल पहले यानी 1817 में हुआ था । तो अगर आपको आपके सवाल का जवाब मिल गया होगा तो इस आर्टिकल को अपने दोस्तों के साथ जरुर से शेयर करें।

Naresh Kumar
Naresh Kumarhttps://howgyan.com
इनका नाम नरेश कुमार है और यह इस ब्लॉग के Founder है । वोह एक Professional Blogger हैं जो SEO, Technology, Internet से जुड़ी विषय में रुचि रखते है । इनको 2 वर्ष से अधिक SEO का अनुभव है और 4 वर्ष से भी अधिक समय से कंटेंट राइटिंग कर रहे है। इनके द्वारा लिखा गया कंटेंट आपको कैसा लगा, कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं। आप इनसे नीचे दिए सोशल मीडिया हैंडल पर जरूर जुड़े।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here