HomeHow ToBank Cheque kaise Bhare | बैंक चेक कैसे भरे ?

Bank Cheque kaise Bhare | बैंक चेक कैसे भरे ?

-

दि आपका अकाउंट बैंक में हे तो आपके पास चेक जरूर होगा। यदि नही हे तो आप अपने बैंक ब्रांच में जाकर चेक बुक के लिए अप्लाई कर सकते हो। जिससे आपको चेक बुक मिल सके। यदि आप बड़ी लेन देन करते हो तो आपको चेक बुक (Bank Cheque) का इस्तेमाल करना आना चाहिए। क्योकि यह काम को सरल बना देता है। आइये सीखे SBI का चेक भरने का तरीका क्या है। सभी बैंक का चेक इसी प्रकार से भरा जाता है ।

how to fill cheque in hindi

बैंक चेक(Bank Cheque) कैसे भरे ?

नीचे मैंने भारतीय स्टेट  बैंक का चेक भरा है. सभी बैंकों के चेक इसी तरह के होते हैं सिर्फ फॉर्मेट चेंज होता है. तो बैंक चेक कैसे भरते हैं जानने के लिए आगे के पोस्ट को पढ़ें ।

आप अपने चेक को अपनी स्थानीय भाषा जैसे कि हिंदी, इंग्लिश, पंजाबी, में भर सकते हो  ।

चेक भरने के लिए, सबसे पहले चेक के ऊपर 2 लाइनें खींचे और उनके बीच “खाता धारक को या A/C Payee” लिखे. यह लिखना जरूरी नहीं होता लेकिन इसको लिखना चाहिए. ध्यान दें: अगर आप सेल्फ चेक (Self Cheque) भर रहे हो अपने बैंक से खुद के लिए पैसे निकालने के लिए तो यह ना लिखें ।

ये भी पढ़े :-

कैंसिल ( Cancel Cheque ) चेक क्या होता है ओर कैसे बनाये

अभी “Pay” के आगे उस व्यक्ति का नाम लिखें जिसको आपने चेक के द्वारा पैसे देने हैं. अगर आप खुद के लिए पैसे निकलवा रहे हो तो वहां पर “Self” लिख दे. जैसे कि मैंने बताया अगर आप चेक के माध्यम से ज्यादा पैसे दे रहे हो तो Payee का बैंक अकाउंट नंबर लिखें . नाम के बाद आप बैंक अकाउंट नंबर लिख सकते हो. नाम लिखने के बाद लाइन डालना ना भूलें ।

नाम लिखने के बाद , चेक पर आपको “धारक को या Or Bearer” लिखा हुआ मिलेगा उसको काट दे. अगर आपने इसको नहीं काटते तो कोई भी बैंक में जाकर इस चेक को कैश करवा सकता है जरूरी नहीं है कि जिसका नाम उस पर लिखा हो वही चेक कैश करवाएं. लेकिन अगर आप “धारक को या Or Bearer” को काट देते हो तो सिर्फ वही व्यक्ति चेक को कैश करा सकता है जिसका नाम चेक पर लिखा हुआ है ।

how to fill bank cheque

उसके बाद चेक की तारीख लिख दे. आप जिस दिन चेक दे रहे हो उस दिन की तारीख लिख सकते हो या उसके आगे की तारीख भी लिख सकते हो. जरूरी नहीं है कि आपको आज की तारीख ही लिखनी है ।

अभी “रुपये या Rupees” के आगे शब्दों में पैसे लिखें, जितने पैसे आपने देने हैं. पैसे लिखने के बाद लाइन डालना ना भूलें. उसके बाद जितने पैसे आपने शब्दों में लिखे हैं उनको नंबरों में दिए गए बॉक्स में भरे ।

अभी अंत में नीचे आप अपना नाम लिखा देख सकते हो, उसके पास अपने साइन कर दे. वह साइन करें जो आपने बैंक में किए हुए हैं ।

मुझे उम्मीद है कि अब आपको पता चल गया होगा कि बैंक चेक कैसे भरते हैं और आगे से आप अपने बैंक चेक को आसानी से भर पाओगे ।

चेक भरते वक्त रखने वाली सावधानी

  • आप चेक देते हो तो आप यह ख्याल रखे। आपका चेक बाउंस नही हो जाये। यदि आपका चेक बाउंस हो जाता हे तो आपको कोर्ट तक भी जाना पड़ सकता है।
  • आपको चेक को तब तक वैलिडिटी रखनी हे आप उसे तीन महीने पहले की तारीख लिखे।
  • चेक हमेशा उसे ही प्राप्त करे। जिस पर आपको विश्वास है। यदि किसी पर विश्वास नही है तो उससे चेक प्राप्त नही करे। वर्तमान में चेक में बहुत धोखा हो रहा है।
  • चेक को एक ही पैन से भरे। नही तो आपका चेक पास नही होगा।
  • यदि आप सेल्फ चेक भर रहे हो और खुद को ही पैसे निकलने हो तो आप पे नेम में स्वयंम लिखे ।

Frequently Asked Questions

  1. पे (Pay) के स्थान पर नाम लिखे ।
  2. भुगतान राशि अंकित करे ।
  3. चेक में Date और Signature भरे ।

इनमें पहले हिस्‍से में जहां 6 नंबर लिखे होते हैं, वहीं दूसरे हिस्‍से में 9 नंबर लिखे होते हैं। इसके साथ ही तीसरे हिस्‍से में 6 व चौथे और आखिरी हिस्‍से में कुल 2 नंबर लिखे होते हैं । चेक में नीचे की तरफ लिखे हुए नंबरों में पहला हिस्सा चेक नंबर बताता है । ये चेक नंबर कुल 6 नंबर का होता है ।

चेकबैंक ड्राफ्ट वर्तमान में इनके जारी होने से छह माह के लिए वैध होते हैं। रिजर्व बैंक ने कहा है कि कुछ कारोबारियों द्वारा जारी किए गये चेकबैंक ड्राफ्ट

अभी की व्यवस्था के अनुसार चेक को क्लियर होने में 2 से 3 दिन का समय लगता है,सीटीएस की शुरूआत 2010 में हुई थी,इसके तहत चेक को क्लीयर करने के लिए एक बैंक से दूसरे बैंक नहीं ले जाना पड़ता बल्कि इसकी इलेक्ट्रॉनिक इमेज भेजी जाती है, जिससे काम जल्दी और आसान हो जाता है 

जिसके तहत जो व्यक्ति चेक से पेमेंट लेने बैंक जाएगा चेक पर उसी का नाम होना जरूरी होगा । आपका बैंक में खाता है और आप पेमेंट लेने के लिए किसी दूसरे व्यक्ति को भेजते हैं तो आपको चेक पर उसी का नाम लिखना होगा और चेक के पीछे उसके दस्तखत कराकर सत्यापित कराना होगा ।

पासबुक एक निरंतर आधार पर लेनदेन की रिकॉर्डिंग की सुविधा प्रदान करती है। बैंकर अपने ग्राहकों में एक छोटी-सी पुस्तिका देता है जिनमें बैंक समय-समय पर उन व्यवहारों की प्रविष्टियां करता रहता है जो उस खाते के सम्बन्ध में बैंकर तथा ग्राहक के बीच होते हैं ।

इसमें इंटरनेट बैंकिंग की बड़ी भूमिका है, जिसके जरिए एक बैंक से दूसरे बैंक अकाउंट में पैसा ऑनलाइन ट्रांसफर किया जाता है,फंड ट्रांसफर एनईएफटी (NEFT), आरटीजीएस (RTGS) और आईएमपीएस (IMPS) के जरिए कर सकते हैं,यह एक इलेक्ट्रॉनिक पेमेंट सिस्टम है. इसे नेशनल इलेक्ट्रॉनिक फंड ट्रांसफर (NEFT) के नाम से जाना जाता है ।

Bank Cheque kaise Bhare | बैंक चेक कैसे भरे ? -[Video]

CONCLUSION

यहाँ पर हमनें बैंक चेक भरने के विषय में बताया, यदि इस जानकारी से सम्बन्धित आपके मन में किसी प्रकार का प्रश्न आ रहा है, अथवा इससे सम्बंधित अन्य कोई जानकारी प्राप्त करना चाहते है, तो कमेंट बाक्स के माध्यम से पूँछ सकते है, हम आपके द्वारा की गयी प्रतिक्रिया और सुझावों का इंतजार कर रहे है ।

Naresh Kumarhttps://howgyan.com
नमस्कार दोस्तों, मैं नरेश कुमार HowGyan.com का Founder & Author हूँ,आपको इस वेबसाइट पर मैं SEO,Technology और Education के बारे में अपने इस ब्लॉग पर लिखता हूँ अगर आपको इन सभी के बारे में जानकारी चाहिये तो इस ब्लॉग के पोस्ट को जरुर पढ़े ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here