HomeFull FormIP Full Form in Hindi – IP का फुल फॉर्म क्या है?

IP Full Form in Hindi – IP का फुल फॉर्म क्या है?

जब भी आप computer मे कुछ  search करते हैं, तो Google आपसे आपका आईपी एड्रेस मांगता है। हर device जो भी इंटरनेट प्रयोग करती है, उसका अपना आईपी एड्रेस होता है।

IP Full Form in Hindi

आइए आज की post मे हम जानेंगे IP Full Form in Hindi – आईपी क्या होता है, के बारे में। इसके बाद आप आईपी एड्रेस से संबंधित सारी जानकारी प्राप्त कर लेंगे।

IP Full Form in Hindi – आईपी क्या होता है

IP का पूरा नाम internet protocol होता है। जिसको हिंदी में इंटरनेट प्रोटोकोल  बोलते हैं। आप जो भी device प्रयोग करते हैं, जिसमें internet access होता है, उसका आईपी एड्रेस जरूर होता है।

जैसे आप गूगल पर कुछ सर्च करते हैं। यानी Google से जानकारी मांगते हैं, तो गूगल आपके आईपी एड्रेस पर  ही वह जानकारी या डाटा भेजता है। इस डिवाइस द्वारा यह जानकारी मांगी गई है, इसलिए इस डिवाइस को यह जानकारी दिखाई जा रही है।

 IP address क्या है?

इंटरनेट प्रोटोकोल, एक प्रोटोकॉल की तरह होता है। यानी नियमों का एक सेट होता है। इसका उपयोग डाटा को सही जगह भेजने के लिए किया जाता है। पहले IP address 32bits का होता था। जिसमें अब  अपडेट हो जाने के बाद 128 bits का हो गया है।

128 बिट होने के बाद आईपी ऐड्रेस अब बहुत सारे बनाए जा सकते हैं। पहले जहां 32 बिट के आईपी ऐड्रेस मे Limited source था।

 IP address की कितनी क्लास होती है?

आईपी एड्रेस की 5 क्लास होती है। जो कि अलग-अलग device  के लिए प्रयोग की जाती है। आइए IP address class के बारे में जानते हैं।

  •  Class A
  •  Class B
  •  Class C
  •  Class D
  •  Class E

IP address के कितने वर्जन होते हैं?

समय के साथ IP address वर्जन मे बदलाव होता रहता है। जिससे नया-नया update होता रहे। आईपी एड्रेस मे भी लगातार changes होते हैं। जिसमें हाल में जो नए IP address के दो वर्जन है :

  • IPv4
  • IPv6

 IP address कितने प्रकार के होते हैं?

 आईपी ऐड्रेस मुख्यता दो प्रकार के होते हैं।

  •  Private IP address
  •  Public IP address

Private IP address : जब भी आप अपने घर में cable wire या wireless network connection लेते हैं, तो आपका आईपी ऐड्रेस private होता है। जिसमें आप अपना individual IP address बना सकते हैं।जब भी आप Google search के द्वारा कुछ ढूंढते हैं, तो आपका individual IP address ही जानकारी लेता है।

Public IP address : जब आप government sector या private sector के resource पर काम करते हैं। तब आपका आईपी ऐड्रेस public होता है। मान लो  आप बैंक में जॉब करते हैं। तो बैंक में आपके द्वारा search की जाने वाली सभी जानकारियां, public IP address पर जाती है।

 IP address कैसे पता लगाएं?

 अगर आपको अपना IP address मालूम करना है, तो आप नीचे दिए गए steps के जरिए अपना आईपी ऐड्रेस search कर सकते हैं।

  •  सबसे पहले अपने smartphone या कंप्यूटर / लैपटॉप मे Google Chrome खोलें।
  •  गूगल क्रोम पर search करें what is my IP address.
  •  Google आपको आपका आईपी एड्रेस दिखा देगा। आप उसको नोट करके भी लिख सकते हैं।

ये भी पढ़े:-

URL का फुल फॉर्मUNO का फुल फॉर्म
WWW का फुल फॉर्मED का फुल फॉर्म

FAQ

Q : आईपी का मतलब क्या होता है?

Ans : इंटरनेट प्रोटोकॉल (आईपी) इंटरनेट पर एक कंप्यूटर से दूसरे कंप्यूटर के बीच डेटा के आदान-प्रदान के लिए एक संचार प्रोटोकॉल है।

Q : क्या सिम कार्ड बदलने से आईपी पता बदल जाता है?

Ans : हाँ, सिम कार्ड बदलने पर IP address बदल जाता है. एक नेटवर्क के भीतर सभी devices को अलग-अलग IP addresses दिए जाते हैं।

अंतिम शब्द

उम्मीद है की आपको IP की फुल फॉर्म के बारे में पता चल गया होगा और अगर आपको IP  के बारे में सम्पूर्ण जानकारी मिल गयी होगी तो इस आर्टिकल को अपने दोस्तों के साथ शेयर करे और कोई सवाल है तो निचे कमेंट सेक्शन में पूछ सकते है ।

Naresh Kumar
Naresh Kumarhttps://howgyan.com
इनका नाम नरेश कुमार है और यह इस ब्लॉग के Founder है । वोह एक Professional Blogger हैं जो SEO, Technology, Internet से जुड़ी विषय में रुचि रखते है । इनको 2 वर्ष से अधिक SEO का अनुभव है और 4 वर्ष से भी अधिक समय से कंटेंट राइटिंग कर रहे है। इनके द्वारा लिखा गया कंटेंट आपको कैसा लगा, कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं। आप इनसे नीचे दिए सोशल मीडिया हैंडल पर जरूर जुड़े।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here