HomeFull FormED full form in Hindi – ED का फुल फॉर्म क्या है?

ED full form in Hindi – ED का फुल फॉर्म क्या है?

अक्सर आपने समाचार पत्रों में सुना होगा “ आज ED ने फला के घर पर छापा मारा।“ आप सोचते होंगे कि ईडी आखिर है क्या?

ED full form in Hindi

आज की post मे हम आपको ED के बारे में पूरी जानकारी देंगे। जिससे आप ED full form in Hindi – ED का फुल फॉर्म क्या है? के बारे में आसानी से जान पाएंगे।

ED full form in Hindi – ED का फुल फॉर्म क्या है?

ED का पूरा नाम directorate of enforcement है। जिसको हिंदी में  प्रवर्तन निदेशालय बोला जाता है। वैसे ED को directorate General of economic enforcement भी कहा जाता है।

ED भारत सरकार के वित्त मंत्रालय के अंतर्गत आता है। Finance ministry  मे Revenue Department ED की देखरेख करता है। इस प्रकार से कहा जा सकता है, ED भारत सरकार की मुख्य खुफिया एजेंसी है।

ED का हेड क्वार्टर कहां है?

 प्रवर्तन निदेशालय का headquarter नई दिल्ली में है। जबकि इसके अन्य division मुंबई, चंडीगढ़, चेन्नई और कोलकाता मे है।

 इसके अलावा भी Directorate of enforcement के क्षेत्रीय कार्यालय अहमदाबाद, पटना, चंडीगढ़, चेन्नई, कोच्चि, जालंधर, पणजी, गुवाहाटी, हैदराबाद, जयपुर, दिल्ली, कोलकाता, मुंबई, लखनऊ, गुवाहाटी, श्रीनगर, बंगलुरु  मे है।

जबकि ED के 11 उप क्षेत्रीय जोन है। जिसमें भुवनेश्वर, मदुरै, नागपुर, प्रयागराज, कोझिकोड, रायपुर, देहरादून, इंदौर, रांची, सूरत तथा शिमला शामिल है।

ED क्या काम करता है?

प्रवर्तन निदेशालय भारत सरकार की आर्थिक खुफिया agency है। जो कि भारत सरकार के निम्न कानूनों के अंतर्गत काम करती हैं।

  •  Prevention of money laundering act 2002 (pmla)
  •  Foreign exchange management act 1999 (fema )

ED का निर्माण मुख्य रूप से financially जो भी गैरकानूनी काम है, उनके खिलाफ कार्रवाई करती है। जो भी भारत सरकार के ऊपर दिए गए कानून के खिलाफ काम करता है, उसकी ना केवल जांच करती है बल्कि गिरफ्तारी भी करती है।

ED की स्थापना कब हुई थी?

प्रवर्तन निदेशालय की स्थापना 1 मई 1956 को New Delhi मे की गई थी। उस समय  ED को विदेशी मुद्रा विनिमय अधिनियम 1947 के तहत बनाया गया था।

इसके बढ़ते हुए कामों को देखते हुए 1957 में Directorate of enforcement की एक शाखा Madras मे खोली गई थी।

ED का संचालन कौन करता है?

जैसा कि आपको बताया गया है कि Directorate of enforcement, Finance ministry के अंतर्गत आता है। जिसको  Indian government का Revenue Department देखता है। ED का प्रमुख Indian revenue service( IRS ) से चुना जाता है।

 लेकिन इसके अलावा Indian police service, Indian corporate Law service, संयुक्त अधिकारी भारतीय राजस्व सेवा  और Indian Administrative Service भी ED के काम में सहयोग करती है।

ED भ्रष्टाचार को रोकने के लिए

प्रवर्तन निदेशालय money laundering को रोकने में प्रमुख रूप से कारगर साबित हुआ है। यह वित्तीय रूप से गैर कानूनी वाले कामों पर कड़ी कार्रवाई करता है। भारत सरकार की सभी financial जांच Fera 1973 & Fema 1999 के अंतर्गत होती है।

आपने भी newspaper मे पढ़ा होगा कि money laundering के लिए प्रवर्तन निदेशालय ने छापा मारा है। यानी जब भी काला धन भारत से बाहर  भ्रष्टाचारियों द्वारा भेजा जाता है। तो Directorate of enforcement सक्रिय हो जाता है। ऐसे लोगों के खिलाफ अपनी जांच करता है, खोज करता है और evidence मिलने पर गिरफ्तारी भी करता है। भारत सरकार द्वारा इसको full athority दी हुई है।

ये भी पढ़े:-

URL का फुल फॉर्मUNO का फुल फॉर्म
WWW का फुल फॉर्मWHO का फुल फॉर्म

FAQ

Q : ED का फुल फॉर्म क्या है?

Ans : ED का पूरा नाम directorate of enforcement है। जिसको हिंदी में  प्रवर्तन निदेशालय बोला जाता है।

Q : ED की स्थापना कब हुई थी?

Ans : प्रवर्तन निदेशालय की स्थापना 1 मई 1956 को New Delhi मे की गई थी।

अंतिम शब्द

उम्मीद है की आपको ED की फुल फॉर्म के बारे में पता चल गया होगा और अगर आपको ED के बारे में सम्पूर्ण जानकारी मिल गयी होगी तो इस आर्टिकल को अपने दोस्तों के साथ शेयर करे और कोई सवाल है तो निचे कमेंट सेक्शन में पूछ सकते है ।

Naresh Kumar
Naresh Kumarhttps://howgyan.com
इनका नाम नरेश कुमार है और यह इस ब्लॉग के Founder है । वोह एक Professional Blogger हैं जो SEO, Technology, Internet से जुड़ी विषय में रुचि रखते है । इनको 2 वर्ष से अधिक SEO का अनुभव है और 4 वर्ष से भी अधिक समय से कंटेंट राइटिंग कर रहे है। इनके द्वारा लिखा गया कंटेंट आपको कैसा लगा, कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं। आप इनसे नीचे दिए सोशल मीडिया हैंडल पर जरूर जुड़े।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here