HomeHow Toआरटीजीएस (RTGS) क्या है और कैसे काम करता है ?

आरटीजीएस (RTGS) क्या है और कैसे काम करता है ?

गर आप पैसे का लेनदेन करते है तो सबसे तेज तरीका RTGS होता है,वेसे तो बहुत तरीके है पैसे किसी और को भेजने के जैसे की NEFT,IMPS आदि इन तरीको से भी आप पैसे ट्रान्सफर कर सकते है,लेकिन इसमें आपको ज्यादा चार्जेज देने पड़ते है और NEFT में आपके पैसे रियल टाइम में ट्रान्सफर नहीं होते है इसमें कुछ टाइम लग सकता है मगर RTGS में पैसे रियल टाइम में ट्रान्सफर हो जाते हैऔर आप RTGS किस मदत से बड़ी रकम को एक अकाउंट से दुसरे अकाउंट में पैसे ट्रान्सफर कर सकते है और यह आप बैंक में जाकर या फिर ऑनलाइन भी कर सकते है तो आईये जानते है बिस्तर से RTGS के बारे में ।

RTGS Kya Hai

RTGS क्या है?

RTGS का पूरा नाम Real Time Gross Settlement इससे आप पैसे को बहुत तेजी के साथ भेज सकते है और आपको मिनियम 200000 रूपये तक ट्रान्सफर कर सकते है और मैक्सिमम की कोई लिमिट नहीं है । RTGS का इस्तेमाल आप 2 तरीको से कर सकते है एक ऑनलाइन और दूसरा ऑफलाइन इन दोनों तरीको के बारे में जानते है ।

Online तरीका 

Online तरीके में आप इन्टरनेट बैंकिंग का इस्तेमाल करके RTGS कर सकते है,इसमें आपको जिसको पैसे ट्रान्सफर करने है उससे आपको बेनेफिशेरी के रूप में जोड़ना होगा उसके बाद ही उससे आप ऑनलाइन RTGS कर सकते है,आपको उसकी पूरी डिटेल डालनी होगी जैसे की नाम,बैंक नाम,अकाउंट नंबर और IFSC कोड डालने के बाद वेरीफाई करना होगा यह प्रोसेस 12  से 24 घंटे में पूरा होता है इससे बैंक के द्वारा Activate किया जाता है ।

उसके बाद जिस Person को ऐड किया हुआ है उससे पैसे भेज सकते है और इसमें रियल टाइम में पैसे ट्रान्सफर हो जाते है,आप इसी तरीके से और भी Person को बेनेफिशेरी के रूप में ऐड करके पैसे सेंड कर सकते है और इसके लिए इन्टरनेट बैंकिंग होना बहुत जरुरी है ।

rtgs kya hai

Offline तरीका 

अगर आपके बस ऑनलाइन बैंकिंग नहीं है तो आप offline तरीके को इस्तेमाल करके भी RTGS कर सकते है इसके लिए आपको अपने बैंक में जा कर एक स्लिप भरना  होगा जैसे की आप चेक जमा करवा ते वक्त भरते है ।

आपको RTGS स्लिप भरके बैंक में जमा करवाना होगा उसके बाद आपकी इनफार्मेशन को Central processing System में फीड कर दिया जाता है और उसके बाद इस इनफार्मेशन को RBI सेंड कर दिया जाता है ।

RBI सारी  Transaction को प्रोसेस करके कम्पलीट करता है और सेंडिंग बैंक अकाउंट से पैसे को Debit कर लेता है और रिसीवर बैंक अकाउंट में Credit कर देता है ।

प्रोसेस पूरा होने के बाद RBI एक Unique Transaction Number (UTN) Generate करता है जो सेन्डर बैंक को भेज देता हैऔर अगर UTN Generate होने का मतलब की आपका Transaction कम्पलीट हो गया है ।

जैसे ही सेन्डर बैंक को UTN नंबर मिलता है वो  इसकी जानकारी रिसीवर बैंक को देता है और रिसीवर बैंक यह अमाउंट अकाउंट होल्डर के अकाउंट में क्रेडिट कर देता है जिससे अमाउंट सेंड किया गया हो ।

इस तरीके से आप Offline तरीके से भी RTGS कर सकते है और किसी को भी पैसे सेंड कर सकते है ।

ये भी पढ़े :-

RTGS Transaction  के Fees और Charges

इस पर्क्रिया में जिस बैंक को पैसे भेजा है उसको कोई भी चार्ज नहीं देना पड़ता है लेकिन सेन्डर बैंक को कुछ चार्ज देना पड़ता है वो कुछ इस पारकर है –

AmountRTGS Fees
Rs.2 लाख से 5 लाख तकRs.30 per Transaction
Rs.5 लाख से उपरRs.55 per Transaction

RTGS Kya Hai

RTGS करने की Timing

RTGS Timings
व्यापार के लिए खुला7:00 AM
प्रारंभिक कट-ऑफ (ग्राहक लेनदेन)6:00 PM
अंतिम कट-ऑफ (इंटर बैंक लेनदेन)7:45 PM
इंट्रा-डे तरलता (आईडीएल) उलट7:45 PM to 8:00 PM
दिन के आखिर मे8:00 PM

RTGS की कुछ विशेष बाते 

  • इसमें रियल टाइम में ऑनलाइन फण्ड ट्रान्सफर किया जाता है ।
  • इसका इस्तेमाल बड़ी रकम को ट्रांसफर करने के लिए किया जाता है
  • ये बहुत ही तेज  और सिक्योर है ।
  • इसमें Fund को One-on-One बेसिस पे  क्रेडिट किया जाता है ।
  • इसके माध्यम से ट्रांसफर की जाने वाली न्यनतम राशी 2 लाख है ।
  • ये बहुत ज्यादा Reliable है क्युकी इसके पीछे RBI का हाथ होता है ।
  • इसमें Transaction को Indivisual और Gross बेसिस पर Execute किया जाता है ।

NEFT और RTGS में अंतर

NEFTRTGS
इसमें Transaction  को Batchs में  सेटल किया जाता है ।इसमें  Transaction  को Indivisual सेटल किया जाता है ।
इसका इस्तेमाल मुख्यत लोअर और मिडिल रेंज के Transaction को सेटल करके के लिए किया जाता है ।इसमें High वैल्यू के Transaction   को सेटल करने के लिए किया जाता है ।
इसमें पैसे सेंड करने की कोई लिमिट नहीं है इसमें आप 1 रुपये से जिनते चाहे उतने पैसे भेज सकते है ।इसमें 2 लाख रु. से कम आप ट्रान्सफर नहीं कर सकते हैं  और आप मैक्सिमम जितने चाहे भेज सकते है ।
इसमें Transaction  को सेटल होने में कुछ घंटे लगते है ।  इसमें Transaction  रियल टाइम में सेटल हो जाता है ।

Frequently Asked Questions

'आरटीजीएस', वास्तविक समय सकल निपटान के लिए संक्षिप्त नाम है, जिसे आदेश दर आदेश आधार पर निधियों के पृथक-पृथक रूप से (नेटिंग के बिना) निरंतर (वास्तविक समय) निपटारे के रूप में परिभाषित किया जा सकता है ।

NEFT में पैसे ट्रान्सफर कुछ घंटे बाद होता है यानी इस प्रक्रिया में कुछ घंटो का समय लगता है जबकि आरटीजीएस में पैसे का ट्रान्सफर तुरंत हो जाता है इसके अलावा NEFT में पैसे ट्रान्सफर की टाइमिंग सुबह 8 बजे से लेकर शाम के 7 बजे तक होती है वहीं RTGS में पैसे ट्रान्सफर की टाइमिंग सुबह 8 बजे से लेकर शाम के 4:30 बजे तक की होती ।

RTGS क्या होता है (RTGS in Hindi) RTGS का full form होता है Real Time Gross Settlement. ये एक continuous, real-time process है funds settlement का जहाँ की funds को individually और order-by-order के basis पर बिना netting के एक account से दुसरे account पर भेजा जाता है ।

आरटीजीएस भारत में सुरक्षित बैंकिंग चैनलों के माध्यम से उपलब्ध सबसे तेज संभव अंतरबैंक पैसा ट्रांस्फर करने की सुविधा है । आरटीजीएस में निरंतर, व्यक्तिगत निपटान करने के विपरीत यहां फंड ट्रांस्फर लेनदेन का निपटान बैचों में किया जाता है ।

बैंक (Bank) उस वित्तीय संस्था को कहते हैं जो जनता से धनराशि जमा करने तथा जनता को ऋण देने का काम करता है । आर्थिक आयोजन के वर्तमान युग में कृषि, उद्योग एवं व्यापार के विकास के लिए बैंक एवं बैंकिंग व्यवस्था एक अनिवार्य आवश्यकता मानी जाती है ।

एक बैंक से दूसरे बैंक में पैसे ट्रांसफर करने के कई उपाय हैं जैसे आईएमपीएस,एनईएफटी,आरटीजीएस। ऑनलाइन ट्रांसफर करने के लिये मोबाइल बैंकिंग या इंटरनेट बैंकिंग का होना जरूरी है। जिसके एकाउंट में ट्रांसफर करने के लिए उसका एकाउंट नम्बर,आईएफएससी कोड होना जरूरी है। वहीं आईएमपीएस से ट्रांसफर के लिए एमएमआईडी होना चाहिए ।

निष्कर्ष

तो आपको RTGS के बारे में पता चल गया होगा की RTGS क्या है और कितना शुल्क लगता है अगर कोई भी सवाल है तो आप निचे कमेंट कर सकते है,अगर आपको इस पोस्ट की इनफार्मेशन पसंद आई तो अपने दोस्तों के साथ शेयर करे ।

Naresh Kumarhttps://howgyan.com
नमस्कार दोस्तों, मैं नरेश कुमार HowGyan.com का Founder & Author हूँ,आपको इस वेबसाइट पर मैं SEO,Technology और Education के बारे में अपने इस ब्लॉग पर लिखता हूँ अगर आपको इन सभी के बारे में जानकारी चाहिये तो इस ब्लॉग के पोस्ट को जरुर पढ़े ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here