HomeInternetFlipkart क्या है ? और इसके CEO कौन है ?

Flipkart क्या है ? और इसके CEO कौन है ?

Flipkart क्या है: आज के इस आधुनिक युग में लोगों का काम बहुत सरल होता जा रहा है। लोग आजकल घर बैठे बैठे ऑनलाइन काम कर रहे हैं। पढ़ाई से लेकर शॉपिंग तक सारी चीजें ऑनलाइन करना पसंद कर रहे हैं। ऑनलाइन शॉपिंग कौन नहीं करना चाहता है। अब तो हर दिन लोग ऑनलाइन स्टोर में जाकर मनपसंद चीजों के दाम देखते हैं, एवं खरीदते हैं।

यहां पर किफायती के साथ साथ वैरायटी भी बहुत उपलब्ध रहती हैं। जो लोगों को अपनी तरफ आकर्षित करने का केंद्र बनी हुई है।

Flipkart क्या है

नया मोबाइल खरीदना हो, या फिर मोबाइल के लिए बैक कवर, नई शर्ट/पैंट देखनी हो या मेकअप के प्रोडक्ट या किचन का कोई सामान या नए जूते पर स्लीपर दुकान भी नहीं जाना चाहते बल्कि सभी चीजों को घर बैठे ही मंगवाना चाहते हैं। इस तरह के ऑनलाइन शॉपिंग कंपनियां तो बहुत हैं लेकिन सबसे लोकप्रिय फ्लिपकार्ट बनता जा रहा है।

तो आइए हम इस पोस्ट में समझने की कोशिश करते हैं कि उसका क्या है फ्लिपकार्ट के सीईओ कौन है?फ्लिपकार्ट का इतिहास क्या है?और फ्लिपकार्ट को कौन-कौन से अवार्ड मिले हुए हैं?

फ्लिपकार्ट क्या है?

दोस्तों यदि बात की जाए ऑनलाइन शॉपिंग की तो भारत में इंटरनेट के प्रचलन के साथ ही आज ऑनलाइन शॉपिंग करने वाले यूजर की संख्या में भी तेजी से बढ़ती जा रही है।

फ्लिपकार्ट एक इंटरनेट प्राइवेट लिमिटेड इ कॉमर्स कंपनी है। एक भारतीय कंपनी है इसकी शुरुआत वर्ष 2007 में सचिन नंबर तथा वित्री बंसल ने की थी। फ्लिपकार्ट एक ई-कॉमर्स वेबसाइट है। जहां हर महीने लाखों यूजर्स पसंदीदा तो घर बैठे ऑनलाइन ऑर्डर करते हैं।

फ्लिपकार्ट उपभोक्ता को ऐसे सीरी होम और किचन, किताबें, ब्यूटी प्रोडक्ट, राशन इत्यादि अनेकों कैटेगरी में प्रोडक्ट तो पूरे भारत में डिलीवर करता है। ऑनलाइन शॉपिंग नहीं की है तो फ्लिपकार्ट को आपको एक बार जरूर ट्राय करना चाहिए।

अमेजॉन तथा फ्लिपकार्ट दोनों ही ई-कॉमर्स कंपनिया हैं। परंतु ऐमेज़ॉन देश-विदेश में भी आपकी सेवाएं उपलब्ध करती है जबकि फ्लिपकार्ट वर्तमान केवल भारत में  कार्य करती है।

तो फ्लिपकार्ट के 22 मिलियन यूजेस रजिस्टर है तथा इनके अनुसार 5 मिलियन पैकेट हर महीने फ्लिपकार्ट द्वारा पूरे देश में डिलीवर किया जाता है। इससे आप अनुमान लगा सकते हैं कि फ्लिपकार्ट का मार्केट इंडिया में कितना बड़ा है।

फ्लिपकार्ट के CEO कौन है?

फ्लिपकार्ट का नाम भारत में एक शॉपिंग साइड के रूप में काफी बड़ा और प्रसिद्ध है। भारतीय इसके जरिए बहुत ही ऑनलाइन शॉपिंग करने लगे हैं।

फ्लिपकार्ट के CEO कल्याण कृष्णमूर्ति है इनका जन्म 12 जनवरी 1972  में  हुआ था। कल्याण कृष्णमूर्ति की ने जनवरी 2017 फ्लिपकार्ट में CEO पद पर कार्य कर रहे हैं। फ्लिपकार्ट को वॉलमार्ट ने खरीदने के बाद यह भारत के अलावा कई दूसरे देशों में अपना कारोबार बढ़ाने लगा है। इस कंपनी की डील अमेरिकन कंपनी वॉलमार्ट के साथ  हो गई और इसे वॉलमार्ट ने खरीद लिया जिसके बाद यह अमेरिका की कंपनी बन चुकी है।

फ्लिपकार्ट की शुरुआत करने के बाद उसके पहले CEO सचिन बंसल बने और उन्होंने लंबे समय तक अपना पद संभाला उसके बाद सचिन बंसल के मित्र बिश्री बंसल फ्लिपकार्ट के दूसरे CEO बने । लेकिन वर्ष 2018 में फ्लिपकार्ट का CEO कल्याण कृष्णमूर्ति को बनाया गया । जिन्होंने अब तक फ्लिपकार्ट के CEO के पद को संभाला हुआ है।

कल्याण कृष्णमूर्ति फ्लिपकार्ट के CEO

कल्याण कृष्णमूर्ति 2018 से फ्लिपकार्ट ग्रुप के CEO हैं। कल्याण जी भारत में ई-कॉमर्स को लोकतांत्रिक बनाने की दृष्टि से देश भर में विकास और संचालन को चलाने हेतू जिम्मेदार है।कल्याणजी 2016 में कंपनी के साथ जुड़ने के बाद से फ्लिपकार्ट में विभिन्न चार्टर्स का नेतृत्व कर रहा है और जनवरी 2017 में फ्लिपकार्ट के लिए CEO नियुक्त किया गया था।

कल्याणजी ने भारत में उपभोक्ता इंटरनेट व्यवसाय को आकार देने और फ्लिपकार्ट एक प्रमुख घरेलू ई-कॉमर्स बाज़ार बनने में मदद करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। फ्लिपकार्ट में अपनी यात्रा के दौरान कल्याणजी ने फ्लिपकार्ट के वाणिज्य व्यवसाय का नेतृत्व किया।

कंपनी के साथ पहले के सहयोग में कल्याण ने 2013 में अंतरिम सीएफओ के रूप में कार्य किया।एक ई-कॉमर्स दिग्गज, कल्याण ने टाइगर ग्लोबल मैनेजमेंट में प्रबंध निदेशक के रूप में काम किया है।जो फंड की भारत पोर्टफोलियो कंपनियों का प्रबंधन करता है। इससे पहले  वह टाइगर ग्लोबल मैनेजमेंट में निदेश कंपनी थे।

एक अनुभवी वित्त पेशेवर कल्याणजी ने ईबे एशिया पैसिफिक के लिए वित्तीय योजना और विश्लेषण के निदेशक के रूप में है।

कल्याणजी ने एशियन इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट फिलीपींस से एमबीए किया है। वह एक शौकीन चावला पाठक है और योग का अभ्यास करता है।

फ्लिपकार्ट का इतिहास

फ्लिपकार्ट की स्थापना अक्टूबर 2007 में सचिन बंसल और बिन्नी बंसल आईआईटी दिल्ली के पूर्व छात्र और अमेज़ॅन के पूर्व कर्मचारियों द्वारा की गई थी। कंपनी ने शुरू में देश भर में शिपिंग के साथ ऑनलाइन किताबों की बिक्री पर ध्यान केंद्रित किया। फ्लिपकार्ट धीरे-धीरे प्रमुखता से बढ़ी और 2008 तक प्रति दिन 100 ऑर्डर प्राप्त कर रहा था।

वर्ष 2011 के अक्टूबर- नवम्बर के दौरान इन्होंने दो वेबसाइट और बनाए, जिनके नाम Mime360.com और chakpak.com थे।इन वेबसाइट की सहायता से कंपनी ने और भी बेहतर प्रदर्शन किया. वर्ष 2012 के दौरान इस कंपनी ने एक डिजिटल म्यूजिकल स्टोर का आरम्भ किया. इस म्यूजिकल स्टोर का नाम फ्लाईट डिजिटल म्यूजिक स्टोर था।इस म्यूजिक स्टोर की सहायता से लोग कानूनी तौर पर म्यूजिक डाउनलोड कर सकते थे किन्तु यह वर्ष 2013 के दौरान बंद हो गया।

फ्लिपकार्ट को मिले अवार्ड

  • फ्लिपकार्ट रेनमेकर अवार्ड, 2019।
  • सामुदायिक सेवा अवार्ड।
  • नवाचार अवार्ड।
  • व्यापार उत्कृष्टता अवार्ड।
  • मूल्य राजदूत अवार्ड।
  • ग्राहक उत्कृष्टता के लिए सीईओ का अवार्ड।

ये भी पढ़े:-

FAQ

Q : फ्लिपकार्ट में क्या काम होता है?

Ans : Flipkart एक ऐसी ऑनलाइन शॉपिंग वेबसाइट है जहाँ पर आप घर बैठे ऑनलाइन किसी भी सामान को कम दामों में ख़रीद सकते है। इससे आप Mobile, Tablet, Laptop, Cloths, Earphone, Grocery सामान इत्यादि खरीद सकते है।

Q : फ्लिपकार्ट की शुरुआत कब हुई थी ?

Ans : Flipkart एक इंटरनेट प्राइवेट लिमिटेड ई-कॉमर्स कंपनी है। यह एक भारतीय ई-कॉमर्स कंपनी है। जिसकी शुरुवात वर्ष 2007 में सचिन बंसल तथा बिन्नी बंसल ने की थी।

निष्कर्ष

उम्मीद है कि आप को पता चल गया होगा कि फ्लिपकार्ट क्या है और इसका सीईओ कौन है अगर आपको यह सब जानकारी मिल गई होगी तो जरूर से इस आर्टिकल को अपने दोस्तों के साथ शेयर करें और कुछ भी अगर आप पूछना चाहते हैं तो नीचे कमेंट सेक्शन में पूछ सकते हैं।

Naresh Kumar
Naresh Kumarhttps://howgyan.com
इनका नाम नरेश कुमार है और यह इस ब्लॉग के Founder है । वोह एक Professional Blogger हैं जो SEO, Technology, Internet से जुड़ी विषय में रुचि रखते है । इनको 2 वर्ष से अधिक SEO का अनुभव है और 4 वर्ष से भी अधिक समय से कंटेंट राइटिंग कर रहे है। इनके द्वारा लिखा गया कंटेंट आपको कैसा लगा, कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं। आप इनसे नीचे दिए सोशल मीडिया हैंडल पर जरूर जुड़े।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here