HomeFull FormHSC का फुल फॉर्म क्या है | HSC Full Form Kya Hai

HSC का फुल फॉर्म क्या है | HSC Full Form Kya Hai

ज के पोस्ट में हम बात करने वाले है HSC के बारे में इसकी फुल फॉर्म क्या है सब जानने वाले है इससे इंग्लिश में Higher Secondary Certificate कहा जाता है और अगर हिंदी  में बात करे तो इसकी HSC Full Form उच्चतर माध्यमिक प्रमाणपत्र है। इसको HSSC (Higher Secondary School Certificate) नाम से भी जाना जाता है ।

यह इंटरमीडिएट कॉलेज के छात्रों द्वारा ली गई एक सार्वजनिक परीक्षा है। भारत में, CBSE राष्ट्रीय स्तर पर 12 वीं परीक्षा या HSC या इंटर परीक्षा आयोजित करता है, और राज्य स्तर पर शिक्षा और राज्य स्तर पर NIOS (राष्ट्रीय मुक्त विद्यालयी शिक्षा संस्थान) द्वारा आयोजित की जाती है। NIOS साल में दो बार सार्वजनिक परीक्षाओं में ऑन-डिमांड परीक्षाओं का विकल्प देता है,CBSE साल में एक बार इसका संचालन करता है ।

HSC Full Form

योग्यता / Eligibility for HSC

आम तौर 10वी की परीक्षा को पास करने के बाद विद्यार्थियों को Higher Secondary परीक्षा में शामिल होने दिया जाता है,इस परीक्षा को दो श्रेणी में बाटा गया है,जो निचे दिया गया है:-

  • Science Programe (विज्ञान कार्यक्रम)
  • Non – Science Programe (गैर- विज्ञान कार्यक्रम)

1.Science Programe (विज्ञान कार्यक्रम)

विज्ञान कार्यक्रम के अंतर्गत मुख्य रूप से फिजिक्स केमिस्ट्री और मैथ के विषय पढ़ाए जाते हैं इसके अलावा बायोलॉजी भी इसी के अंतर्गत आता है और इसमें पड़ने वाले विद्यार्थियों मेडिकल और इंजीनियरिंग के आगे की पढ़ाई के तयारी करते है ।

2.Non – Science Programe (गैर- विज्ञान कार्यक्रम)

गैर- विज्ञान कार्यक्रम  के अंतर्गत कॉमर्स और आर्ट्स के बच्चों की एडमिशन जाती है इसमें विज्ञान के विषय नहीं होते हैं ।

भारतीय राज्य जो HSC परीक्षा आयोजित करते है ?

आंध्र प्रदेश,तमिलनाडु,महाराष्ट्र,गुजरात,केरल,पंजाब और गोवा भारतीय राज्य हैं जो HSC परीक्षा की संरचना बोर्ड से अलग होती है जैसे कि  CBSE बोर्ड,एमपी बोर्ड (MP Board),यूपी बोर्ड (UP Board),महाराष्ट्र बोर्ड (Maharashtra Board), बिहार बोर्ड (Bihar Board),ISC बोर्ड,आईएससी बोर्ड (ISSC Board),एनआईओएस (NIOS) आदि। पाठ्यक्रम के पूरा होने के बाद छात्रों को परीक्षा में उनके प्रदर्शन के अनुसार ग्रेड या प्रतिशत के साथ प्रमाण पत्र मिलता है । यह परीक्षा भारत के अलावा पाकिस्तान और बांग्लादेश में भी ली जाती है और जो छात्र इस परीक्षा को पास कर लेते हैं उन्हें हायर सेकेंडरी सर्टिफिकेट दिया जाता है ।

एचएससी (HSC) क्यों ज़रूरी है ?

एचएससी (HSC) छात्र के करियर में अत्यधिक महत्व रखता है,इस परीक्षा  के कोर्स और सब्जेक्ट के आधार पर ही मेडिकल और इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा में सवाल पूछे जाते है,डाक्टर या इंजीनियर बनने के इच्छुक छात्रों को प्रवेश परीक्षाओं के जरिये आसानी से मेडिकल और इंजीनियर कालेज में एडमिशन मिल जाता है और अगर आप 12वीं कक्षा पास नहीं करते है तो आप किसी भी फील्ड में कैरियर नहीं बना सकते है,किसी भी फील्ड में अपना कैरियर बनाने के लिए 12वीं कक्षा HSC पास करना जरुरी है ।

ये भी पढ़े :-

HSC परीक्षा के विषय

एचएससी(HSC) परीक्षा में सबसे सामान्य विषय निम्नलिखित हैं :-

  • Biology (जीवविज्ञान)
  • Chemistry (रसायन)
  • Accounting (लेखांकन)
  • Mathematics (गणित)
  • History (इतिहास)
  • Physics (भौतिक विज्ञान)
  • Geography (भूगोल-शास्र)
  • Agriculture (कृषि)

एचएससी (HSC) के क्या फायदे  है ?

HSC Full Form

किसी भी छात्र के लिए हायर सेकेंडरी सर्टिफिकेट (Higher Secondary Certificate) सबसे अधिक महत्वपूर्ण होता है ,इसके फायदे निम्नलिखित हैं :-

  • विभिन्न प्रकार के संस्थानों में यदि कोई छात्र दाखिला लेना चाहता है है तो इसके लिए एचएससी (HSC) का सर्टिफिकेट चाहिये होता है ।
  • बहुत से प्रवेश परीक्षाएं बारहवीं कक्षा के पाठ्यक्रम के ऊपर ही आधारित होती है,इसी से बहुत से सवाल प्रवेश परीक्षाएं में आते है इसलिए बारहवीं कक्षा छात्रों के लिए काफी महत्व रखती है ।
  • किसी भी
  • छात्रों को आगे पढ़ाई करने के लिए हायर सेकेंडरी सर्टिफिकेट (Higher Secondary Certificate) की आवश्यकता होती है ।
  • अगर आप किसी पॉलिटेक्निक या किसी ट्रेनिंग प्रोग्राम में एडमिशन लेकर अपना कैरियर बनाना चाहते है तो आपके पास हायर सेकेंडरी सर्टिफिकेट (Higher Secondary Certificate) होना बहुत जरुरी है ।
  • अगर आपको मेडिकल,इंजीनियर,डॉक्टर,फैशन डिजाइनर और आईपीएस ऑफिसर बनना चाहते है तो इसके लिए भी आपको हायर सेकेंडरी सर्टिफिकेट (Higher Secondary Certificate) की आवश्यकता होती है ।

HSC के लिए कितने प्रतिशत जरुरी होता है ?

बहुत से येसी कंपनी है जो छात्र-छात्राओं का प्लेसमेंट करती हैं और जिसने भी  12वीं में प्रथम श्रेणी यानी 60 प्रतिशत अंक हासिल किए हुए हों और भारतीय प्रौद्या‌गिकी संस्‍थान Indian Institutes of Technology (IIT)
के होने वाली प्रवेश परीक्षाओं में 12वीं में 60 फीसदी अंक जरूरी किए गए हैं । मेडिकल और बहुत से क्षेत्रों में  12वीं की परीक्षा  के आधार पर सेलेक्ट किया जाता है ।

एचएससी (HSC) के अन्य फुल फॉर्म

  • High School Summer College
  • Haryana Staff Selection Commission
  • Humane Society Sarasota County
  • Hydrographic Services and Standards Committee
  • Health Sciences Students Council
  • Heating Sweating Spontaneous Combustion
  • Haryana State Selection Commission
  • Home Savings Bank of Siler City
  • Hawaii State Student Council
  • HIV Screening Standard Care
  • Healthcare Sector Skill Council
  • Humane Society of Summit County
  • Houston Sports and Social Club

Frequently Asked Questions

Conclusion

हम उम्मीद करते हैं कि हमारे द्वारा दी गई जानकारी आपको अच्छे से समझ में आ गई होगी और आपको पता चल गया होगा की HSC क्या है और और आपको  एचएससी (HSC )का फुल फॉर्म क्या है पता चल गया होगा और अगर फिर भी कोई सवाल है तो आप हमें कमेंट केर सकते है हम जरुर जवाब देंगे ।

Naresh Kumarhttps://howgyan.com
नमस्कार दोस्तों, मैं नरेश कुमार HowGyan.com का Founder & Author हूँ,आपको इस वेबसाइट पर मैं SEO,Technology और Education के बारे में अपने इस ब्लॉग पर लिखता हूँ अगर आपको इन सभी के बारे में जानकारी चाहिये तो इस ब्लॉग के पोस्ट को जरुर पढ़े ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here